दानिश सिद्दिकी जामिया मिल्लिया इस्लामिया के कब्रिस्तान में होंगे ‘सुपुर्द-ए-खाक’, यहीं की थी पढ़ाई

नयी दिल्ली | Danish Siddiqui’s Suburd-e-Khak : अफगानिस्तान में मारे गए फोटो पत्रकार दानिश सिद्दिकी के शव को दिल्ली स्थित जामिया मिल्लिया इस्लामिया के कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा. यह जानकारी रविवार को एक बयान जारी कर दी गई. विश्वविद्यालय ने एक बयान में कहा कि जामिया मिल्लिया इस्लामिया की कुलपति ने फोटो पत्रकार दानिश सिद्दिकी के परिवार की उनके शव को विश्वविद्यालय के कब्रिस्तान में दफनाने के अनुरोध को स्वीकार कर लिया है. यह कब्रिस्तान विशेष तौर पर विश्वविद्यालय के कर्मचारियों, उनके जीवनसाथी और नाबालिग बच्चों के लिए बनाया गया है. जामिया से किया था मास्टर्स Danish Siddiqui’s Suburd-e-Khak : सिद्दिकी ने इस विश्वविद्यालय से मास्टर्स किया था. उनके पिता अख्तर सिद्दिकी विश्वविद्यालय में शिक्षा संकाय के डीन थे. सिद्दिकी ने वर्ष 2005-2007 में एजेके मास कम्युनिकेशन सेंटर (एमसीआरसी) से पढ़ाई की थी. जामिया शिक्षक संघ ने सिद्दिकी के निधन पर शोक व्यक्त किया है. बता दें कि देशभर में सिद्दिकी की मौत के बाद से लोगों में खासी नाराजगी है. लोग सोशल मीडिया में सिद्दिकी के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं. इसे भी पढें- इंग्लैंड में इस अंदाज में मस्ती करते नजर आए विराट कोहली और अनुष्का शर्मा – फोटोज हुई वायरल 2018 में मिला था पुलित्जर… Continue reading दानिश सिद्दिकी जामिया मिल्लिया इस्लामिया के कब्रिस्तान में होंगे ‘सुपुर्द-ए-खाक’, यहीं की थी पढ़ाई

अंतिम वर्ष परीक्षा मामले में सुनवाई शुक्रवार तक स्थगित

उच्चतम न्यायालय ने विश्वविद्यालयों में विभिन्न पाठ्यक्रमों की अंतिम वर्ष की परीक्षाएं 30 सितम्बर तक कराये जाने की अनिवार्यता संबंधी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग

अंतिम वर्ष की परीक्षा संबंधी आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती

सभी विश्वविद्यालयों/कॉलेजों में 30 सितम्बर तक अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करने के दिशानिर्देश संबंधी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग

बाद में भी परीक्षा दे सकेंगे छात्र

कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से जो भी छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हो पाएंगे, उन्हें परीक्षा देने का बाद में मौका मिलेगा। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने खुद इस बात को स्पष्ट किय है।

दिल्ली सरकार के अधीन विश्वविद्यालयों में सभी परीक्षाएं रद्द

दिल्ली सरकार ने कोविड-19 महामारी को देखते हुए आज बड़ा फैसला करते हुए उसके अधीन किसी राज्य विश्वविद्यालय में फिलहाल वार्षिक परीक्षा समेत सभी परीक्षाओं को रद्द कर दिया है।

छात्रों की सुरक्षा और उन्नति के लिए बदले गए परीक्षा के दिशानिर्देश : निशंक

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने कहा कि यूजीसी ने विश्वविद्यालय की परीक्षाओं से संबंधित अपने पहले के दिशानिर्देशों में परिवर्तन किया है।

अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने सुझाव दें विश्वविद्यालय : दिल्ली सरकार

दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के कारण ठप हुई अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए विश्वविद्यालयों एवं उनके विशेषज्ञ प्रोफेसर्स से सुझाव मांगे हैं।

कॉलेजों, विश्वविद्यालयों में सितंबर से शुरू होगा नया सत्र

देशभर में विश्वविद्यालयों का नया शैक्षणिक सत्र इस बार 2 महीने की देरी से शुरू किया जाएगा। विश्वविद्यालयों में यह नया शैक्षणिक सत्र सितंबर से शुरू होगा।

मप्र में घर से बाहर पढ़ने वाले बच्चों की सहायता करें : टंडन

भोपाल। मध्य प्रदेश में बड़ी संख्या में ऐसे भी विद्यार्थी हैं, जो अपने घर से बाहर रहकर पढ़ाई कर रहे हैं। राज्यपाल लालजी टंडन ने सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियो को ई-मेल संदेश भेजकर ऐसे विद्यार्थियों की सहायता के निर्देश दिए हैं। राज्यपाल लालजी टंडन ने कोरोना वायरस संकट के चलते सभी कुलपतियों को गुरुवार को ई-मेल भेज कर निर्देशित किया है कि घर से बाहर रह कर पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं की आवश्यक सहायता करें। विश्वविद्यालय प्रशासन सभी विद्यार्थियों से संचार माध्यमों से सम्पर्क स्थापित करे। बाहर से आए छात्र-छात्राओं की भोजन इत्यादि की व्यवस्था में मदद करें। प्रबंधन द्वारा ऐसे प्रबंध किए जाएं, जिससे जरूरतमंद छात्र-छात्राएं स्वयं उनसे सहायता के लिए सम्पर्क करने के लिए प्रेरित हों। राज्यपाल ने कहा है कि विश्वविद्यालयों का आईटी सेल छात्र-छात्राओं को घर से काम करने के लिए प्रशिक्षित और प्रेरित करे। कोरोना संकट से निपटने के लिए सूचना, शिक्षा और संचार गतिविधियों में उनको शामिल करे। राज्यपाल ने कहा कि घर से बाहर रहकर पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं की शैक्षणिक गतिविधियों को भी वर्क टू होम प्रणाली में संयोजन कर संचालित करें। राज्यपाल टंडन ने सभी कुलपतियों से अपेक्षा की है कि कोरोना वायरस के इस संकट काल में दूरदर्शी सोच के साथ कार्य… Continue reading मप्र में घर से बाहर पढ़ने वाले बच्चों की सहायता करें : टंडन

शिक्षक घर से काम करें छात्र ऑनलाइन पढ़ें

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने कोरोना के प्रकोप को देखते हुए कॉलेज एवम् विश्वविद्यालय के शिक्षकों को 31 मार्च तक घर से ही काम करने तथा स्कूली एवम् कॉलेज के छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त करने की अपील की है और होस्टल में रह रहे छात्रों विशेषकर विदेशी छात्रों को होस्टल में रहने देने का निर्देश दिया है। मानव संसाधन मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने राज्यों के मुख्य सचिवों तथा विश्व विद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद, राष्ट्रीय टेस्टिंग एजेंसी, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय एवम् अन्य शिक्षण संस्थाओं को पत्र लिखकर अपील की है। खरे ने पत्र में लिखा है कि कोरोना के मद्देनजर स्कूल और कॉलेजों को 31 मॉर्च तक बंद कर दिया गया है इसलिए कॉलेज के शिक्षकों से अपील की जाती है कि वे छात्रों को ऑनलाइन पढ़ाए और उत्तर पुस्तिकाएं घर पर ही जांचें। घर पर शोध कार्य करें लेख आदि लिखें। पत्र में कहा गया है कि राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीआरटी), केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) और राष्ट्रीय मुक्त ज्ञान कोष ने डिजिटल पाठ्य सामग्रियों को बड़ी संख्या में तैयार किया है और वे गूगल प्ले स्टोर तथा उन संस्थाओं की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।… Continue reading शिक्षक घर से काम करें छात्र ऑनलाइन पढ़ें

ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई छोड़ सकते हैं चीनी छात्र

ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष विश्वविद्यालयों ने आज आगाह किया कि चीनी छात्र ऑस्ट्रेलिया या न्यूजीलैंड में पढ़ाई छोड़ सकते हैं। कैनबरा ने कोरोना वायरस के चलते लगाया गया यात्रा प्रतिबंध बढ़ा दिया है

जामिया लाइब्रेरी जल्द बहाल होगी

नई दिल्ली। जामिया मिलिया इस्लामिया लाइब्रेरी के बहाल किए जाने की तैयारी हो रही है। बीते महीने पुलिस कार्रवाई में लाइब्रेरी में तोड़-फोड़ की गई थी। यूनिवर्सिटी ने इस कार्रवाई में 2.6 करोड़ रुपए नुकसान का अनुमान जताया है। यूनिवर्सिटी सूत्रों ने कहा कि लाइब्रेरी की मरम्मत का कार्य जारी है और इसका ग्राउंडवर्क हफ्ते भर के भीतर शुरू हो जाएगा। यूनिवर्सिटी के जन संपर्क अधिकारी अहमद अजीम ने कहा, हमारी लाइब्रेरी को ज्यादा फायदेमंद बनाने की योजना है। हम लाइब्रेरी को बहाल करने के लिए दृढ़ हैं। उन्होंने कहा कि प्रारंभिक आकलन में यूनिवर्सिटी ने पाया है कि पुलिस की कार्रवाई के दौरान लगभग 2.6 करोड़ रुपए की संपत्ति का नुकसान हुआ। 15 दिसंबर को नागरिकता अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शन कर रही नाराज भीड़ से अपनी जान बचाने के लिए राष्ट्रीय राजधानी के मध्य के निवासियों व राहगीरों को भागना पड़ा। प्रदर्शनकारी जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्र माने जा रहे थे। कम से कम पांच बसों को आग लगा दी गई या क्षतिग्रस्त कर दिया गया, इसके अलावा कई कारों व बाइकों को भीड़ ने निशाना बनाया।

13 जनवरी से चरणबद्ध तरीके से खुलेगा एएमयू

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में शीतकालीन अवकाश बढ़ाए जाने के बाद विश्वविद्यालय अब 13 जनवरी से तीन चरणों में खुलेगा।

सीएए के विरोध में जामिया में उमड़ी भीड़

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने आज बड़ी तादाद में प्रदर्शनकारी जामिया मिलिया इस्लामिया (जेएमआई) विश्वविद्यालय पहुंचे।

बीएचयू परिसर से हटेगा राजीव गांधी का नाम

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) कोर्ट ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का नाम विश्वविद्यालय के दक्षिणी परिसर से हटाने की सिफारिश की है।

और लोड करें