ट्रंप के होने, न होने से अपना क्या?

एक बहुत पुरानी कहावत है कि ‘कोई नृप होय हमें का हानि’। इसे इस तरह से जाना जा सकता है कि कोऊ नृप होय हमें क्या लाभ। खासतौर पर तब जबकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ की जा रही कार्रवाई का मामला आता है तब आम भारतीय के मन में यह सवाल उठना… Continue reading ट्रंप के होने, न होने से अपना क्या?

ट्रंप-विरोधी नौटंकी

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ऐसे तीसरे राष्ट्रपति हैं, जिन पर वहां की संसद का महाभियोग पास हुआ है।  उनके पहले 1868 में एंड्रू ज़ॉन्सन और 1998 में बिल क्लिंटन पर यह बड़ा मुकदमा चल चुका है। ये दोनों ही बच गए थे लेकिन जब राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन पर 1974 में वाटरगेट को लेकर मुकदमा… Continue reading ट्रंप-विरोधी नौटंकी

ट्रंप हुए दागी अमेरिकी राष्ट्रपति!

अमेरिका के लोकतंत्र को सलाम! ठीक कहा अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में एक सांसद ने कि क्यों अमेरिका दुनिया का सिरमौर देश है? क्यों तीसरी दुनिया के देशों, बाकी देशों से वह अलग है? इसलिए क्योंकि हम ‘रूल ऑफ लॉ’ में जीते हैं। अमेरिका चेक-बैलेंस लिए हुए है। तभी यदि राष्ट्रपति कानून से परे व्यवहार करेगा… Continue reading ट्रंप हुए दागी अमेरिकी राष्ट्रपति!

ट्रंप पर महाभियोग की कार्रवाई

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप देश के इतिहास में तीसरे ऐसे राष्ट्रपति बन गए हैं, जिन पर संसद के निचले सदन यानी प्रतिनिधि सभा में महाभियोग की कार्रवाई की गई। ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के लिए सदन में दो प्रस्ताव पेश किए गए थे। पहले प्रस्ताव में ट्रंप पर सत्ता के दुरुपयोग का आरोप… Continue reading ट्रंप पर महाभियोग की कार्रवाई

बात महाभियोग तक आ पहुंची

यह लगभग तय है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप पर महाभियोग की कार्यवाही चलेगी। अमेरिकी संसद के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव में इस पर अंतिम मतदान होने वाला है? ट्रंप पर आरोप है कि राजनीतिक फायदे के लिए उन्होंने अपने पद का दुरुपयोग किया। ट्रंप पर आरोप है कि उन्होंने पूर्व उप राष्ट्रपति जो… Continue reading बात महाभियोग तक आ पहुंची