Uttar Pradesh Election 2022 : विपक्ष की नैया है मुस्लिम वोटरों के भरोसे… किसे लगाएंगे पार ??

परिस्थितियां बदल गई है एक और क्षेत्रीय पार्टी कांग्रेस का वोट काट रही हैं तो दूसरी ओर असदुद्दीन ओवैसी की अपनी शख्सियत से युवा उनको खूब पसंद करते हैं. जानकारों की मानें तो कांग्रेस के पिछड़ने के पीछे का कारण भी यही है

ओवैसी के लैला-मजनू वाले बयान पर भड़कीं उमा भारती, कहा-भाषा पर नियंत्रण रखें और याद कर लें कि यूपी में ‘एंटी रोमियो स्क्वॉड’…

उमा भारती ने कहा कि ओवैसी की जुबां काफी लड़खड़ाती है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में यह सब नहीं चलेगा उन्हें अपनी भाषा पर नियंत्रण रखना होगा. उमा भारती ने कहा कि ओवैसी को कुछ भी बोलने से पहली याद कर लेना चाहिए कि योगी आदित्यनाथ ने यूपी में ‘एंटी रोमियो स्क्वॉड’ बना रखा था.

मायावती बोलीं एक हो विपक्ष, भाजपा के नेता टीकाकरण अभियान के प्रचार में लगे हुए हैं जबकि केंद्रों में वैक्सीन है ही नहीं

लखनऊ | Uttar Pradesh Election 2022: उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहूजन समाजवादी पार्टी की मुखिया मायावती ने एक बार फिर से केंद्र सरकार पर बड़ा हमला बोला है. मायावती ने कहा है कि केंद्र की सरकार बहुत लापरवाही कर रही है जिसका हरजाना लोगों को भुगतना पड़ रहा है. मायावती ने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ देश की सभी राजनीतिक पार्टियों को एक होना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि यदि विपक्ष आज एकजुट नहीं होता है तो फिर देश की जनता के साथ ही दूसरी राजनीतिक पार्टियों को भी भविष्य में परेशानी होने वाली है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने एक या दो गलती नहीं की है बल्कि गलतियों की लड़ी लगा दी है. मुझे पूरा भरोसा है कि अब ब्राह्मण समाज के लोग भाजपा के किसी भी तरह के बहकावे में नहीं आएंगे। ब्राह्मण समाज को फिर से जागरूक करने के लिए 23 जुलाई से अयोध्या से एक अभियान शुरू किया जा रहा है: मायावती, बसपा प्रमुख pic.twitter.com/uG2MzHDIOv — ANI_HindiNews (@AHindinews) July 18, 2021 पेट्रोल-डीजल और टीकाकरण सब कुछ समस्या Uttar Pradesh Election 2022:  मायावती ने कहा कि केंद्र सरकार सिर्फ अपनी ही पीठ थपथपाने का कार्य कर रही है. उन्होंने कहा कि… Continue reading मायावती बोलीं एक हो विपक्ष, भाजपा के नेता टीकाकरण अभियान के प्रचार में लगे हुए हैं जबकि केंद्रों में वैक्सीन है ही नहीं

ओवैसी की ‘फैन फॉलोइंग’के सामने कौन पूछता है कोरोना को ! UP में लगने लगा नेताओं का मेला

लखनऊ | Uttar Pradesh Election 2022: कोरोना की तीसरी लहर के चर्चाएं जोरों पर है. लेकिन राजनेताओं को कहां जनका की फिक्र पड़ी है. फिलहाल तो देश की लगभग सभी प्रमुख राजनीतिक पार्टियों को बस अगले साल उत्तर प्रदेश में होने वाला विधानसभा का चुनाव दिख रहा है. यहीं कारण है कि एक के बाद एक कई बड़े नेता उत्तर प्रदेश का दौरा करने में लगे हैं. इसी क्रम में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी भी गाजियाबाद पहुंचे. यहां पहुंच कर उन्होंने अपनी पार्टी के नए ऑफिस का उद्घाटन किया. गाजियाबाद के बाद ओवैसी हापुड़ भी गए जहां पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया. ओवैसी के स्वागत की तस्वीरें डराने वाली हैं. हजारों की संख्या में उपस्थित कार्यकर्ताओं के चेहरे पर ना तो मास्क नजर आ रहा था ना ही सोशल डिस्टेंस का ही किसी को ख्याल था. इस दौरान राज्य और केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए सभी गाइडलाइन को ताक पर रखा गया. उत्तर प्रदेश में पिछले विधानसभा चुनाव के मुकाबले इस बार हमारा संगठन 70 ज़िलों में मज़बूत है। प्रदेश में हम अपने संगठन को मज़बूत करेंगे। 80-100 विधानसभा सीटों पर लगभग 70% बूथों पर AIMIM पार्टी की पकड़ है: AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी pic.twitter.com/QKT6Szk20J —… Continue reading ओवैसी की ‘फैन फॉलोइंग’के सामने कौन पूछता है कोरोना को ! UP में लगने लगा नेताओं का मेला

Uttar Pradesh : भाजपा विधायक के बिगड़े बोल, कहा- अपने बेटे की कसम खा कर कहो भाजपा को वोट दिया था तब ही लगवाऊंगा बिजली…

शाहजहांपुर | Uttar Pradesh Election 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव अगले साल होने वाला है. चुनाव के पहले ही उत्तर प्रदेश की राजनीति गलियारों में हवा अब तेजी से बहने लगी हैं. सभी राजनीतिक पार्टियां एक-दूसरे को नीचा दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ रही हैं. इसी क्रम में भारतीय जनता पार्टी से शाहजहांपुर में विधायक वीर विक्रम सिंह का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. वायरल होते इस वीडियो में कथित तौर पर विधायक वीर विक्रम सिंह एक व्यक्ति से ये कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि “अपने बेटे की कसम खा कर कहो कि भाजपा को वोट दिया था कभी क्षेत्र में लाइट लगवाऊंगा.”विधानसभा चुनाव के ठीक पहले भाजपा विधायक का वायरल वीडियो अब उनकी और उनकी पार्टी के लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है. बिजली लगवाने के लिए मिलने पहुंचा था फरियादी Uttar Pradesh Election 2022 : कटरा क्षेत्र से भाजपा के विधायक वीर विक्रम सिंह के पास जब एक ग्रामीण व्यक्ति बिजली की गुहार लगाने गया तो विधायक साहब ने अजीबोगरीब सवाल पूछ लिया. विधायक साहब ने कहा कि अपने बेटे की कसम खा कर कहो कि भाजपा को वोट किया था तभी मैं लाइट लगवाऊंगा. भजन और वीडियो के अनुसार भाजपा… Continue reading Uttar Pradesh : भाजपा विधायक के बिगड़े बोल, कहा- अपने बेटे की कसम खा कर कहो भाजपा को वोट दिया था तब ही लगवाऊंगा बिजली…

ओवैसी का खेल शुरू हो गया

aimim asaduddin owaisi polarization : उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव से पहले ऑल इंडिया एमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी का खेल ( aimim asaduddin owaisi polarization ) शुरू हो गया है। पश्चिम बंगाल और चार अन्य राज्यों में हुए इस साल के विधानसभा चुनाव में कई कारणों से वे कोई खेल नहीं कर पाए थे, जबकि उससे ठीक पहले उन्होंने बिहार में बहुत शानदार तरीके से खेला किया था। उसी तर्ज पर उत्तर प्रदेश में भी उनका खेल शुरू हो गया है और इसके साथ ही भाजपा की उनके साथ नूरा कुश्ती भी शुरू हो गई है। इस नूरा कुश्ती ने ही पिछले दिनों हैदराबाद नगर निगम के चुनाव में भाजपा को स्थापित होने का मौका दिया था। बहरहाल, ओवैसी ने ऐलान किया है कि वे उत्तर प्रदेश में एक सौ सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। इसके साथ ही उन्होंने यह भी ऐलान किया कि वे योगी आदित्यनाथ को किसी कीमत पर दूसरी बार सत्त में नहीं आने देंगे। उनके इस बयान के तुरंत बाद योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ओवैसी की चुनौती को भाजपा का हर कार्यकर्ता मंजूर करता है। सोचें, कैसा मजाक चल रहा है कि 403 विधायकों वाले प्रदेश में ओवैसी की पार्टी का एक भी विधायक नहीं… Continue reading ओवैसी का खेल शुरू हो गया

Uttar pradesh Election 2022 :  कोई नहीं ओवैसी के साथ, मायावती भी नहीं करने देंगी ‘हाथी की सवारी’

लखनऊ |  Uttar pradesh Election 2022 :  उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं. अपने नेता पर कार्रवाई हो या फिर दूसरे पार्टी के नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल करना. सभी राजनीतिक पार्टियां जोड़-तोड़ कर खुद को सशक्त करने के प्रयास में लगी हुई है. ऐसे में मायावती की पार्टी BSP की ओर से यह साफ कर दिया गया है कि वह असदुद्दीन ओवैसी के साथ मिलकर चुनाव लड़ने वाली नहीं हैं. मतलब साफ है कि ओवैसी को अकेले ही अपना रास्ता तय करना है उन्हें हाथी पर सवार होने का मौका नहीं मिलने वाला है. अब यह सवाल उठने लगा है की उत्तर प्रदेश की तथाकथित सेकुलर दलों के लिए ओवैसी अछूत बन गए हैं जिसके कारण बसपा ,सपा और कांग्रेस AIMIM से हाथ मिलाने के लिए ही तैयार नहीं हैं. हालाकि कभी भी कांग्रेस और अखिलेश यादव ने ओवैसी में कोई इंटरेस्ट दिखाया ही नहीं है. इतना जरूर है कि बिहार चुनाव की तर्ज पर मायावती और ओवैसी के यूपी में एक होने के चर्चे जोरों पर थे. 100 सीटों पर चुनाव लड़ेगी AIMIM , ओवौसी ने दिया बयान Uttar pradesh Election 2022 :  AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी… Continue reading Uttar pradesh Election 2022 :  कोई नहीं ओवैसी के साथ, मायावती भी नहीं करने देंगी ‘हाथी की सवारी’

और लोड करें