भारत-अमेरिका ने चीन पर चर्चा की

वाशिंगटन। भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन से मुलाकात की, जिसमें भारत-चीन सीमा की स्थिति पर भी चर्चा हुई। ब्लिंकेन ने बताया कि दोनों मंत्रियों ने भारत-चीन की सीमा की स्थिति पर चर्चा की। हालांकि जयशंकर ने मीडिया के सामने इस बात का जिक्र नहीं किया। उन्होंने चीन के साथ चर्चा पर पूछे गए सवालों की अनदेखी करते हुए कहा कि हिंद-प्रशांत के मामले में विस्तार से चर्चा हुई। उससे पहले अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने कहा कि भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ उसकी बैठक सार्थक रही और इस दौरान उन्होंने दोपक्षीय संबंधों, कोविड-19 राहत प्रयासों, भारत-चीन सीमा स्थिति और अफगानिस्तान पर चर्चा की और साझा चिंताओं के क्षेत्रों पर साथ मिल कर काम करने का संकल्प किया। गौरतलब है कि जयशंकर अमेरिका की आधिकारिक यात्रा पर हैं। उन्होंने शुक्रवार को ब्लिंकेन से मुलाकात की। विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा- ब्लिंकेन ने विदेश मंत्रालय में जयशंकर का स्वागत किया और अमेरिका-भारत व्यापक वैश्विक रणनीतिक साझेदारी मजबूत करने की अमेरिकी प्रशासन की प्रतिबद्धता को दोहराया। ब्लिंकन ने कहा- डॉ. एस जयंशकर के साथ क्षेत्रीय सुरक्षा और अमेरिका के कोविड-19 राहत प्रयासों समेत आर्थिक प्राथमिकताओं, भारत-चीन सीमा… Continue reading भारत-अमेरिका ने चीन पर चर्चा की

निजी अस्पतालों को मिल रही है वैक्सीन

नई दिल्ली। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने वैक्सीन को लेकर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि राज्यों को वैक्सीन नहीं मिल रही है, जबकि निजी अस्पतालों को बड़ी संख्या में वैक्सीन उपलब्ध हो रही है। उन्होंने बताया कि निजी अस्पताल एक हजार से ज्यादा रुपए में एक डोज लगा रहे हैं। सिसोदिया ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि निजी अस्पतालों की क्या सेटिंग है, जो उनको इतनी मात्रा में वैक्सीन मिल रही है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वैक्सीन की किल्लत की जानकारी देते हुए सिसोदिया ने शनिवार को कहा कि दिल्ली में 18 से 44 वालों के लिए वैक्सीन 10 जून से पहले उपलब्ध नहीं होगी। उन्होंने कहा- 18 से 44 साल के लोगों को अभी और इंतज़ार करना होगा। सिसोदिया ने कोरोनारोधी टीकों की वितरण व्यवस्था पर केंद्र के ऊपर अड़ियल रुख अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि केवल कुछ निजी अस्पतालों में युवाओं को वैक्सीन लग रही है। उन्होंने कहा- सरकारी केंद्रों में वैक्सीन मुफ्त लगती है जबकि निजी अस्पतालों में एक हजार से 12 सौ रुपए प्रति डोज कीमत चुकानी होती है। मनीष सिसोदिया ने बताया जून महीने में दिल्ली को साढ़े पांच लाख वैक्सीन डोज मिलने का अनुमान… Continue reading निजी अस्पतालों को मिल रही है वैक्सीन

टीके के लिए तरस रही है देश की बड़ी आबादी, उसी देश में हो रही टीके की बर्बादी

Delhi : देश में कोरोना का टीकाकरण अभियान ज़ारी है लेकिन कुछ राज्यों में वैक्सीन की कमी के कारण वैक्सीनेशन रोक दिया गया है। एक तरफ कुछ राज्य वैक्सीन की कमी होने के कारण टीकाकरण अभियान को अस्थाई रूप से बंद कर दिया गया है और वहीं राज्यों में वैक्सीन की बर्बादी हो रही है। उन राज्यों का कहना है कि टीके की आपुर्ति नहीं हो रही है लेकिन सेंटर पर भरपुर टीकों की बर्बादी की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार कविड-19 वैक्सीन की बर्बादी सबसे ज्यादा झारखंड में हो रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह निर्देश दिए थे कि कोरोना के टीके की बर्बादी ना के बराबर हो, कोरोना के टीके की बर्बादी 1%  से भी कम रखना है। मंगलवार शाम को जारी किए आंक़ड़ों के मुताबिक झारखंड में सबसे अधिक 37.3% वैक्सीन खुराकों की बर्बादी हुई। इसका मतलब यह है कि हर तीन में से एक खुराक बर्बाद हो गई। जबकि राष्ट्रीय स्तर पर यह औसत 6.3% है, कुछ अन्य राज्यों की बात करें तो छत्तीसगढ़ बर्बादी के मामले में दूसरे और तमिलनाडु तीसरे नंबर पर आता है। छत्तीसगढ़ में 30.2% बर्बादी हुई तो वहीं तमिलनाडु में यह आंकड़ा 15.5% का है। इनके बाद… Continue reading टीके के लिए तरस रही है देश की बड़ी आबादी, उसी देश में हो रही टीके की बर्बादी

राज्यों को नहीं मिलेगी Moderna की वैक्सीन

चंडीगढ़। अमेरिकी कंपनी मॉडर्ना की कोरोना वैक्सीन राज्य सरकारें सीधे नहीं खरीद पाएंगी। कंपनी ने दो टूक अंदाज में यह बात पंजाब की सरकार को बता दी है। पंजाब सरकार की ओर से कहा गया है कि मॉडर्ना ने वैक्सीन भेजने के पंजाब सरकार के अनुरोध को ठुकरा दिया है। पंजाब के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी और कोविड-19 वैक्सीनेशन के नोडल अफसर विकास गर्ग ने रविवार को यह जानकारी दी। अमेरिकी दवा कंपनी ने पंजाब सरकार को स्पष्ट तौर पर बताया है कि वो केवल भारत सरकार से डील करती है और राज्यों से अलग से सौदा नहीं कर सकती है। गौरतलब है कि जब से केंद्र सरकार ने 18 से 44 साल की उम्र के लोगों को टीका लगाने का काम राज्यों के जिम्मे छोड़ा है और उन्हें ही वैक्सीन खरीदने को कहा है तब से राज्य सरकारें दुनिया भर में वैक्सीन बना रही कंपनियों से संपर्क कर रही हैं। कई राज्यों ने वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर भी जारी किए हैं। भारत में फिलहाल दो कंपनियां वैक्सीन का निर्माण कर रही हैं। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कोविशील्ड और भारत बायोटेक कोवैक्सीन बना रही है लेकिन इनका उत्पादन भारत की जरूरतें पूरी करने के लिए कम पड़ रहा है। भारत… Continue reading राज्यों को नहीं मिलेगी Moderna की वैक्सीन

तीन वैक्सीन केंद्रों में गए मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यहां निजी क्षेत्र की अग्रणी दवा निर्माता कम्पनी जाइडस के प्रयोगशाला का दौरा कर वहां कोरोना वाइरस के टीके के विकास की प्रगति का जायज़ा लिया।

कोविड-19 टीका पहले उन्हें मिले जिन्हें जरूरत है : बिल गेट्स

माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक, अरबपति परोपकारी बिल गेट्स ने हाल ही में कोविड-19 दवाओं और बाद में उत्पादित टीके को उन देशों और लोगों को उपलब्ध करवाने का आह्वान किया

कोरोनाः रोक-थाम की पहल क्यों नहीं ?

कोरोना की महामारी कब खत्म होगी, कुछ पता नहीं। अमेरिका की एक खोजी संस्था की राय है कि अभी दुनिया में एक अरब लोगों के संक्रमित होने की संभावना है।

अभी अंधेरे में ही कयास

कोरोना वायरस को लेकर दुनिया भर में फैली दहशत की एक बड़ी वजह यही है कि इसका अब तक कोई इलाज नहीं है। दुनिया भर के वैज्ञानिक अभी भी टीका विकसित करने में जुटे हैं।

और लोड करें