‘न्यू वेल्फेयरिज्म’ से मुक्ति बिना ना नई राजनीति, ना देश कल्याण

लेखक: सत्येंद्र रंजन पांचवें राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वे (एनएफएचएस- 5) के आंकड़े पिछले दिसंबर में जारी हुए, तो उनसे एक बेहद चिंताजनक तथ्य सामने आया। 2015 से 2019 के बीच दशकों में ऐसा पहली बार ऐसा हुआ कि देश में शारीरिक रूप से अविकसित बच्चों की संख्या बढ़ गई। यानी सरल भाषा में कहें तो… Continue reading ‘न्यू वेल्फेयरिज्म’ से मुक्ति बिना ना नई राजनीति, ना देश कल्याण