राहुल ने अमेठी के लोगों को सहायता भेजी

अमेठी से चुनावी हार के बाद भी कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का इस क्षेत्र के प्रति लगाव कम नहीं हुआ है।

लखनऊ में आटे की किल्लत

उत्तर प्रदेश की राजधानी में अचानक मांग बढ़ जाने के कारण अब आटे की किल्लत शुरू हो गई है। आटा मिलों के पास गेहूं की कमी के कारण यह दिक्कत शुरू हुई है।

धान-गेंहू की खरीद बंद करना चाहती है सरकार: कांग्रेस

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर किसानों के साथ वादाखिलाफी करने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि मौजूदा सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर धान और गेंहू की खरीदारी बंद करना चाहती है।

एफसीआई अब 110 रुपए कुंटल कम दाम पर बेचेगा गेहूं

नई दिल्ली। भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) अब खुले बाजार में 110 रुपए कुंटल कम भाव पर गेहूं बेचेगा। एफसीआई के गोदामों में अभी 300 लाख टन से ज्यादा गेहूं पड़ा हुआ है और इस साल गेहूं की रिकॉर्ड पैदावार होने की संभावना है। ऐसे में एफसीआई को अगले सीजन में गेहूं की खरीद के लिए अपना भंडार खाली करना होगा। केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने शुक्रवार को एफसीआई को जारी एक पत्र में ओपन मार्केट सेल्स स्कीम के तहत घरेलू बाजार में गेहूं की ब्रिकी के लिए रिजर्व प्राइस में संशोधन किया है। संशोधित दर के अनुसार, गेहूं की एफएक्यू क्वालिटी का रिजर्व प्राइस चालू विपणन वर्ष 2019-20 की बची हुई अवधि में 2,135 रुपए प्रति कुंटल होगा। इससे पहले गेहूं का रिजर्व प्राइस चौथी तिमाही के लिए 2,245 रुपए प्रति कुंटल था। वहीं, अंडर रिलैक्स्ड स्पेशिफिकेशन यानी यूआरएस कैटेगरी के गेहूं का रिजर्व प्राइस 2,080 रुपये प्रति कुंटल होगा। कारोबारी सूत्रों ने बताया कि जहां गेहूं की क्वालिटी कमजोर है, वहां एफसीआई 2,080 रुपए प्रति कुंटल के भाव पर गेहूं बेचेगा। यह खबर भी पढ़ें:- एफसीआई की पूंजी बढ़ाकर 10 हजार करोड़ करने के प्रस्ताव को मंजूरी इसके अलावा, एफसीआई द्वारा रैक लोडिंग पर भी… Continue reading एफसीआई अब 110 रुपए कुंटल कम दाम पर बेचेगा गेहूं

और लोड करें