Hariyali Teej Special News 22 सालों से विधवा बनकर जीवन काट रही थी पत्नी...
आज खास | देश | झारखंड| नया इंडिया| Hariyali Teej Special News 22 सालों से विधवा बनकर जीवन काट रही थी पत्नी...

Hariyali Teej Special News : 22 सालों से विधवा बनकर जीवन काट रही थी पत्नी, आज अचानक सामने आ गया पति…

रांची | Hariyali Teej Special News : आज देशभर में हरितालिका तीज का त्योहार धूमधाम से मनाया जा रहा है. ऐसे में झारखंड की राजधानी रांची के पास गुमला से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यहां रहने वाली महिला जो पिछले 22 सालों से एक विधवा की तरह जीवन यापन कर रही थी अचानक उसके सामने उसका पति आ गया. उनका इस तरह से मिलना किसी फिल्म की स्टोरी या चमत्कार से कम नहीं माना जा रहा है. बताया जा रहा है कि अचानक घर के बाहर एक जोगी आया जिसको भिक्षा देने के लिए महिला ने ₹5 का नोट बेटे को दे दिया.  जब अचानक महिला की नजर जोगी पर पड़ी तो उसने तुरंत पहचान लिया कि यह तो उसका खोया हुआ पति है. इसके बाद तो इलाके में जैसे हड़कंप मच गया लोगों की भीड़ उनके घर के आसपास जुट गई.

क्या है मामला

Hariyali Teej Special News  यह पूरा मामला गढ़वा के सेमौरा जिले का बताया जा रहा है. जानकारी के अनुसार यहां रहने वाला उदय 22 वर्ष पहले अपने पैतृक आवास से अचानक से लापता हो गया था. घरवालों की काफी खोजबीन के बाद भी उसका कहीं पता नहीं चला. उस समय परिवार वालों ने पुलिस में भी प्राथमिकी दर्ज कराई थी लेकिन पुलिस भी उदय को ढूंढने में नाकाम हो गई थी. थक हार कर परिवार वालों ने अपने बेटे उदय को मरा हुआ मान लिया था. उदय की पत्नी भी इस बात को स्वीकार कर चुकी थी कि उसका पति अब इस दुनिया में नहीं है. इसके बाद से वह एक विधवा की तरह अपना जीवन यापन कर रही थी.

इसे भी पढ़ें – पदक जीत कर लौटी Hockey Team के खिलाड़ियों ने स्वर्ण मंदिर में टेका मत्था, कल पंजाब सरकार करेगी करोड़ों की बरसात

अनाथ बच्चों को मिला बाप का साया

Hariyali Teej Special News :  22 वर्षों बाद अपने घर वापस लौटने पर उदय ने बताया कि वह गृहस्थ जीवन को छोड़कर भक्ति भाव में डूब गया था. उसने बताया कि वह गांव छोड़कर उत्तर प्रदेश चला गया था. उदय ने वहां अपने दीक्षा प्राप्त की ओर 13 साल गुजारे. उसके बाद से उदय देशभर के शहरों में भिक्षा मांगकर अपना जीवन यापन कर रहा था. हालांकि अभी भी उदय ने कहा कि वह अपने सन्यास जीवन को छोड़कर फिर से गृहस्थ जीवन में नहीं आना चाहता. लेकिन पिछले 22 सालों में उसने जो कुछ बचाया है वह अपने परिवार को देना चाहता था इसलिए वह यहां आया था. पत्नी का कहना है उसे इस बात की खुशी है कि उसका पति जिंदा है उसे और कुछ नहीं चाहिए.

इसे भी पढ़ें- Hariyali Teej Festival 2021: आज के दिन सुहागिनें भूलकर भी ना करें ये काम, सुहाग पर मंडराने लगता है खतरा …

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
विदेश नीतिः हमारी दो नई पहल
विदेश नीतिः हमारी दो नई पहल