Bofors Artillery on LAC: LAC पर तैनात बोफोर्स तोपें हर मौसम में करेंगी काम
आज खास| नया इंडिया| Bofors Artillery on LAC: LAC पर तैनात बोफोर्स तोपें हर मौसम में करेंगी काम

China की हर करतूत नाकाम करेंगी Indian Army, LAC पर तैनात की गई बोफोर्स तोपें, हर मौसम में करेंगी काम

नई दिल्ली | Bofors Artillery on LAC: चीन की विस्तारवादी नीति को ठेंगा दिखाते हुए भारत ने चीन सीमा पर बोफोर्स तोपों (Bofors Artillery) लगा दी है। भारतीय सेना ने अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के पास चीन से लगती वास्तविक नियंत्रण रेखा के अग्रिम इलाकों में बोफोर्स तोपों की तैनाती की है। ये वहीं तोपे हैं जिन्होंने 1999 में कारगिल युद्ध में पाकिस्तानी सेना के छक्कें छुड़ाए थे। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन (China) के साथ चल रही तनातनी के बीच चीन को जवाब देने के लिए भारत की तरफ से यह बड़ा कदम है।

भारत और चीन के बीच विवाद बीते साल 15 जून को पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हुई सैन्य झड़प के बाद और ज्यादा बढ़ गया। जिसके बाद से अभी तक स्थिति पूरी तरह से सामान्य नहीं हो पाई है। चीन लगातार एलएसी के करीब अपना जमावड़ा बढ़ाता जा रहा है। जिसके बाद भारत ने भी इससे निपटने के लिए कमर कस ली है।

India China Tension 

सीमा पर गरजेगी विमान रोधी बोफोर्स की एल-70 तोपें
भारतीय थल सेना ने अरूणाचल प्रदेश में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर ऊंचे पहाड़ों पर काफी संख्या में एल-70 विमान रोधी तोपें तैनात कर दी है। यहां पहले से ही सेना की एम-777 होवित्जर और स्वीडिश बोफोर्स तोपें (Bofors Artillery) तैनात किए हुई हैं। आपको बता दें कि, चीन की ओर से कुछ क्षेत्रों में नए गांव स्थापित कर लिए गए हैं और भारत ने अपनी अभियानगत रणनीति में इसका संज्ञान लिया है क्योंकि आवासों को सैन्य उद्देश्यों के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें:- Afghanistan : वॉलीबॉल टीम की स्टार प्लेयर का तालिबानियों ने किया सर कलम, कोच ने बताई सच्चाई…

हर मौसम में काम करेंगी तोपें, इन सुविधाओं से है लैस
भारतीय सेना अधिकारियों ने बुधवार को जानकारी देते हुए बताया कि, ये तोपें सभी मानवरहित वायु यान, मानवरहित लड़ाकू यान, हमलावर हैलीकॉप्टर और आधुनिक विमान को मार गिराने में सक्षम है और सभी सभी मौसम में काम कर सकती हैं। ये तोपें दिन-रात काम करने वाले टीवी कैमरे, एक थर्मल इमेजिंग कैमरा और एक लेजर रेंज फाइंडर से लैस हैं।

china

चीन ने किया था उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू के दौरे का विरोध
गौरतलब है कि, चीन के विदेश विभाग के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने अरुणाचल प्रदेश को लेकर विवादित बयान देते हुए कहा था कि चीन अवैध रूप से बने तथाकथित अरुणाचल प्रदेश को मान्यता नहीं देता है और भारत के उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू के इस क्षेत्र में किए गए दौरे का विरोध करता है।

ये भी पढ़ें:- ‘मारो मुझे मारो’ वाला लड़का Emotional Rant के साथ वापस आया, कहा- पाकिस्तान के लिए खेल जीतना जरूरी

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Nourth Korea : तानाशाह किम जोंग ने काले ‘लेदर कोर्ट’ पर लगाया प्रतिबंध, कारण जानकर हो जाएंगे हैरान…
Nourth Korea : तानाशाह किम जोंग ने काले ‘लेदर कोर्ट’ पर लगाया प्रतिबंध, कारण जानकर हो जाएंगे हैरान…