nayaindia झांसी के इतिहास में तीसरी बार बंद किया गया लक्ष्मीगेट - Naya India
आज खास| नया इंडिया|

झांसी के इतिहास में तीसरी बार बंद किया गया लक्ष्मीगेट

झांसी। देश दुनिया में मौत का कहर बरपा रहे नोवल कोरोना वायरस के बुंदेलखंड की हृदयस्थली वीरांगना नगरी झांसी में दस्तक देने के साथ ही इस नगर में इतिहास ने एक बार फिर खुद को दोहराया और लक्ष्मीगेट को तीसरी बार बंद किया गया।

देशव्यापी लॉकडाउन के दूसरे चरण के 13वें दिन यहां ओरछा गेट इलाके में एक कोरोना संक्रामित महिला के मिलने के बाद प्रशासन ने इस इलाके से लगते पूरे क्षेत्र को सील कर दिया है और शहर के दूसरे हिस्सों में संक्रमण के प्रसार पर प्रभावी नियंत्रण लगाने के उद्देश्य से ही ऐतिहासिक लक्ष्मीगेट के दोनों दरवाजों को पूरी तरह बंद करने का फैसला प्रशासन ने किया ।

प्रभावित इलाके में जरूरी साजोसामान मुहैया कराने की प्रक्रिया भी सुचारू रखने के लिए सागर गेट का एक ही दरवाजा बंद किया गया है लेकिन प्रभावित क्षेत्र में किसी तरह की गैर जरूरी आवाजाही पर पूरी तरह से रोक लगा दी गयी है ताकि लोग सुरक्षित रह सकें।

कोरोना महामारी ने एक ओर पूरी दुनिया में मौत का कहर तो बरपाया है साथ ही मानवजाति को कई सबक भी सिखाये हैं इन्हीं में एक बड़ा सबक है अपनी पुरानी धरोहरों को संजोकर और संभालकर रखना बेहद जरूरी है। यह सबक झांसी की जनता और प्रशासन को भी इस महामारी ने सिखाया है । किले और किले के चारों ओर बने परकोटे में बने दस दरवाजों और 12 खिड़कियों को दुश्मनों से अपने लोगों की रक्षा के लिए बनाया गया था और निर्माण काल से ही इन संरचाओं ने अपने महत्व को साबित भी किया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

fourteen + 5 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
कैंब्रिज से क्या सधेगी विपक्षी राजनीति?
कैंब्रिज से क्या सधेगी विपक्षी राजनीति?