NCR शासन विधेयक 2021 पर राज्यसभा में विरोध, 'ऐसे तो उप राज्यपाल ही दिल्ली का सरकार बन जाएगा' - Naya India
आज खास | देश | दिल्ली| नया इंडिया|

NCR शासन विधेयक 2021 पर राज्यसभा में विरोध, ‘ऐसे तो उप राज्यपाल ही दिल्ली का सरकार बन जाएगा’

नई दिल्ली | यदि नया ‘‘राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन (संशोधन) विधेयक 2021’’ पारित हो गया तो उप राज्यपाल ही दिल्ली की सरकार बन जाएगा। यह गंभीर और खतरनाक है। चुनी हुई सरकार उप राज्यपाल की नौकर बन जाएगी। यह विचार मंगलवार को राज्यसभा में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के सांसदों के रहे। इन पार्टियों ने भारी विरोध करते हुए हंगामा किया और सदन की कार्रवाई बाधित हुई और दो बार स्थगित भी हुई।


इस विधेयक को लेकर शुरू से हंगामा था। गृह राज्यमंत्री जी. किशन रेड्डी ने विधेयक को विचार और पारित करने के लिए राज्यसभा में पेश किया। प्रतिपक्ष नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने विधेयक को ‘‘गंभीर और खतरनाक’’ बताया तथा कहा कि यह लोकतंत्र को बर्बाद करने वाला और एक चुनी हुई सरकार के अधिकारों को छीनने वाला विधेयक है।

खड़गे ने साफ तौर पर कहा कि ‘‘आप इस विधेयक के जरिए उपराज्यपाल को सरकार बनाना चाहते हैं और चुनी हुई सरकार को उनका ‘नौकर’ बनाना चाहते हैं।’’ आम आदमी पार्टी के सांसद संजयसिंह समेत अन्य सांसदों ने भी इस कानून का विरोध किया। कांग्रेस व आप के सदस्यों ने आसन के निकट आकर हंगामा किया। उप सभापति हरिवंश ने सदन की कार्यवाही पन्द्र ह मिनट के लिए स्थगित कर दी। परन्तु हंगामा जारी रहा। पीठासीन अध्यक्ष वंदना चव्हाण ने बैठक एक बार फिर से स्थगित कर दी। आपको बता दें कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल इस कानून को एनसीआर के लोगों का अपमान बता चुके हैं।

लोकसभा दे चुकी है मंजूरी
आपको बता दें कि लोकसभा इस विधेयक को सोमवार को हंगामे के बीच मंजूरी प्रदान कर चुकी है। इसमें दिल्ली के उपराज्यपाल (एलजी) की कुछ भूमिकाओं और अधिकारों को परिभाषित किया है। लोकसभा में गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा था कि ‘‘संविधान के अनुसार दिल्ली विधानसभा से युक्त सीमित अधिकारों वाला एक केंद्रशासित राज्य है। सुप्रीम कोर्ट भी अपने फैसले में यही कह चुका है और सभी संशोधन न्यायालय के निर्णय के अनुरूप ही हैं।’’ रेड्डी ने इस विधेयक से दिल्ली के लोगों का फायदा और पारदर्शिता की बात कही थी। उन्होंने कहा यह सिर्फ तकनीकी कारणों से लाया है, राजनीतिक फायदों के लिए नहीं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मकर संक्रांति से एक दिन पहले राजस्थान में फिर फूटा कोरोना बम, नए मामलों के साथ मौतों का भी बढ़ा आंकड़ा
मकर संक्रांति से एक दिन पहले राजस्थान में फिर फूटा कोरोना बम, नए मामलों के साथ मौतों का भी बढ़ा आंकड़ा