nayaindia Finance Minister Congress : अर्थव्यवस्था से ज्यादा दिलचस्पी प्लूटो...
आज खास| नया इंडिया| Finance Minister Congress : अर्थव्यवस्था से ज्यादा दिलचस्पी प्लूटो...

वित्त मंत्री पर कसा तंज, कहा- उन्हें अर्थव्यवस्था से ज्यादा दिलचस्पी प्लूटो, यूरेनस में …

Finance Minister Congress
Image Source : Social Media

नई दिल्ली | Finance Minister Congress : कांग्रेस लगातार देश के आर्थिक हालातों को देखते हुए भाजपा और वित्त मंत्री पर हमलावर है. ऐसे में विपक्षी दल ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर निशाना साधा है. कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा कि वो अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के बजाय यूरेनस और प्लूटो ग्रह में ही अधिक दिलचस्पी दिखा रही हैं. गौरव वल्लभ ने पत्रकारों से कहा कि एक दिन पहले वित्त मंत्री मुद्रास्फीति पर काबू पाने की योजना के बारे में देश को बताने के बजाय नासा की तरफ से जारी अंतरिक्ष की नई तस्वीरें ट्वीट करने में ही व्यस्त रहीं. बता दें कि सीतारमण ने मंगलवार को नासा के नए टेलीस्कोप की खींची हुई अंतरिक्ष की बेहद साफ तस्वीरें रिट्वीट की थीं. इन्हें सुदूर अंतरिक्ष की अब तक की सबसे साफ तस्वीरें बताया जा रहा है.

बृहस्पति की राह दिखा रही हैं वित्त मंत्री

Finance Minister Congress : गौरव वल्लभ ने कहा कि जून के खुदरा मुद्रास्फीति आंकड़े आ गए हैं जिनके अनुसार पिछले महीने खुदरा महंगाई मामूली गिरावट के साथ 7.01 प्रतिशत रही है. यह लगातार छठा महीना है जब खुदरा मुद्रास्फीति रिजर्व बैंक के संतोषजनक स्तर से ऊपर बनी हुई है. कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि मुद्रास्फीति के ऐसे आंकड़े सामने आने के बाद यह उम्मीद थी कि वित्त मंत्री मुद्रास्फीति पर काबू पाने से जुड़ी योजना लेकर आएंगी लेकिन उनकी प्राथमिकता ही कुछ अलग रही. उनकी दिलचस्पी तो बृहस्पति, प्लूटो और यूरेनस ग्रहों में है. दुर्भाग्य की बात है कि हमारी वित्त मंत्री प्लूटो, यूरेनस और बृहस्पति की राह दिखा रही हैं लेकिन हमारी अर्थव्यवस्था को आगे ले जाने का रास्ता दिखा पाने में वह नाकाम हैं.

इसे भी पढें- Sri Lanka Crisis : राष्ट्रपति राजपक्षे ने परिवार के साथ छोड़ा देश, आपातकाल की हुई घोषणा …

7 अंक के साथ बर्बादी भी लाई

Finance Minister Congress : वल्लभ ने कहा कि पिछले आठ वर्षों में यह साफ हो चुका है कि भाजपा सरकार की तवज्जो क्या रही है. ध्रुवीकरण और असहिष्णुता अगली कतार में रही हैं जबकि बढ़ती मुद्रास्फीति, बेरोजगारी और गिरता रुपया जैसे मुद्दे उनके एजेंडे में कहीं नहीं हैं. पिछले 45 वर्षों में देश को सर्वाधिक बेरोजगारी का सामना करना पड़ा है. उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि भाजपा सात अंक के साथ बर्बादी भी लेकर आई है जिसमें खुदरा मुद्रास्फीति 7.01 प्रतिशत, बेरोजगारी दर 7.8 प्रतिशत और रुपये में पिछले छह महीनों में डॉलर के मुकाबले सात प्रतिशत तक गिरावट आ चुकी है.

इसे भी पढें- 18 से 59 साल के लोगों को सरकारी केंद्रों पर मुफ्त लगेगी ऐहतियाती खुराक…

Leave a comment

Your email address will not be published.

one + 17 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
प्रयागराज बैठक की अध्यक्षता करेंगे मोहन भागवत
प्रयागराज बैठक की अध्यक्षता करेंगे मोहन भागवत