बदसलूकी वाले कमरे में कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं: पुलिस

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने कहा है जिस कमरे में मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से कथित बदसलूकी हुई है उसमें कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं है। पुलिस ने बताया कि मुख्यमंत्री आवास परिसर में 21 सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं जिनमें से 14 ही चालू हैं और सात की रिकार्डिंग बंद है। 21 सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग और हार्ड डिस्क जब्त की गई है।

मुख्य सचिव के साथ सोमवार मध्य रात्रि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सरकारी आवास पर कथित बदसलूकी मामले की जांच पडताल के सिलसिले में दिल्ली पुलिस आज उनके आवास पहुंची और साक्ष्यों को खंगाला। पुलिस उपायुक्त उत्तर हरेन्द्र कुमार सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि जिस कमरे में यह घटना हुई है उसमें कोई कैमरा नहीं था। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री आवास परिसर में 21 सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं जिनमें से 14 ही चालू हैं और सात की रिकार्डिंग बंद है। कैमरे 40 मिनट पीछे चल रहे हैं। श्री सिंह ने बताया कि 21 सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग और हार्ड डिस्क जब्त की गई है।

पुलिस ने अभी मुख्यमंत्री से कोई पूछताछ नहीं की है। घटना के समय श्री केजरीवाल के अलावा उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी मौजूद थे। इस सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी(आप) के दो विधायकों अमानतुल्ला खां और प्रकाश जरवाल को गिरफ्तार किया है। दोनों विधायक फिलहाल 14 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं। पुलिस सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री के सलाहकार वी के जैन ने बयान दिया है कि मुख्य सचिव के साथ विधायकों ने बदसलूकी और मारपीट की थी। अंशु प्रकाश की शिकायत पर पुलिस विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर जांच कर रही है।श्री केजरीवाल ने इस मामले पर उपराज्यपाल अनिल बैजल से मिलने का समय मांगा है। यह पहला मौका है जब दिल्ली पुलिस किसी मामले की जांच के लिए श्री केजरीवाल के आवास पर गई है।

पुलिस जब्त की गई फुटेज की जांच कर यह पता लगायेगी कि इसमें किसी प्रकार की छेड़छाड़ तो नहीं की गई है। पुलिस ने कहा है कि इन कैमरों की सीडी पहले भी मांगी गई थी उपलब्ध नहीं कराने पर मुख्यमंत्री आवास आकर जांच करनी पड़ी है। मुख्यमंत्री पूर्व निकट सहयोगी और पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा जिस कमरे में मुख्य सचिव के साथ घटना हुई है उस कमरे में श्री केजरीवाल "सीक्रेट डीलिंग " करते हैं।

556 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।