भाजपा की राष्ट्रीय परिषद जनवरी में

नई दिल्ली। पांच राज्यों के चुनाव नतीजों के बाद भारतीय जनता पार्टी की एक अहम बैठक गुरुवार को हुई, जिसमें पार्टी संगठन और चुनावी तैयारियों के बारे में विस्तार से विचार किया गया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने यह बैठक बुलाई थी। बैठक के बाद पार्टी की ओर से बताया गया है कि 11 और 12 जनवरी को दिल्ली में भाजपा की राष्ट्रीय परिषद की बैठक होगी।

पार्टी ने यह भी तय किया कि अगले साल अप्रैल-मई में होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले पार्टी अपने सभी मोर्चों की बैठक बुलाएगी। दिसंबर से लेकर फरवरी तक भाजपा के हर मोर्चे की अलग अलग बैठक होगी। पार्टी के महासचिव भूपेंद्र यादव ने पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं को बताया कि भाजपा के संगठनात्मक स्तर पर सात मोर्चे हैं, जिनमें से भारतीय जनत युवा मोर्चा की बैठक हैदराबाद में हो चुकी है। बचे हुए छह मोर्चों की अलग अलग बैठक होगी।

उन्होंने बताया कि 15-16 दिसंबर को पार्टी के युवा मोर्चा की कार्यशाला होगी। भाजपा महिला मोर्चा की बैठक अमदाबाद में 21-22 दिसंबर को आयोजित होगी। 22 दिसंबर को महिला मोर्चा की एक बड़ी सभा का अयोजन होगा, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित करेंगे। अनुसूचित जाति मोर्चा की बैठक 19-20 जनवरी को नागपुर में होगी, जिसमें अमित शाह हिस्सा लेंगे। भूपेंद्र यादव ने कहा- 11 और 12 जनवरी 2018 को दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय परिषद् का अधिवेशन होगा, जिसमें पार्टी के पदाधिकारी और सभी जनप्रतिनिधि शामिल होंगे।

गुरुवार को पार्टी पदाधिकारियों की बैठक के बाद उन्होंने कहा कि भाजपा की अनुसूचित जनजाति मोर्चा की बैठक दो-तीन फरवरी को भुवनेश्वर में होगी। भाजपा के ओबीसी मोर्चा की बैठक 15-16 फरवरी के पटना में होगी। इसमें 16 फरवरी को पटना के गांधी मैदान में एक सभा का आयोजन किया, जाएगा जिसे पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास आदि संबोधित करेंगे। भाजपा किसान मोर्चा की बैठक 21-22 फरवरी को उत्तर प्रदेश में होगी। इस बैठक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित करेंगे।

चुनाव के ठीक बाद गुरुवार को हुई पार्टी पदाधिकारियों की बैठक के बारे में पूछे जाने पर भूपेंद्र यादव ने कहा कि पदाधिकारियों की यह बैठक पहले से तय थी और इसका चुनाव नतीजों से कुछ लेना देना नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के बारे में इस बैठक में चर्चा नहीं हुई। भूपेंद्र यादव ने कहा - यह बैठक के एजेंडे में शामिल नहीं था।

130 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।