Loading... Please wait...

प्रधानमंत्री मोदी तीन देशों की यात्रा पर!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर्नाटक में चल रहे विधानसभा चुनावों के बीच पांच दिन के लिए विदेश रवाना हो गए हैं। वे तीन देशों की यात्रा पर गए हैं। प्रधानमंत्री इस यात्रा में स्वीडन, ब्रिटेन और जर्मनी जाएंगे। ब्रिटेन में वे राष्ट्रमंडल देशों के प्रमुखों की बैठक में हिस्सा लेंगे और वहां की प्रधानमंत्री के साथ दोपक्षीय वार्ता भी करेंगे। वे नोर्डिक शिखर सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी लंदन के ऐतिहासिक सेंट्रल हॉल वेस्टमिंस्टर से दुनिया को संबोधित करेंगे। पालम स्थित वायु सैनिक हवाईअड्डे से एयर इंडिया के विशेष विमान से प्रधानमंत्री मोदी ने शाम करीब पांच बजे उड़ान भरी। अपनी यात्रा के पहले चरण में वे स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम जाएंगे। एक दिन की यात्रा के बाद वे मंगलवार की रात लंदन पहुंचेंगे और 20 तारीख को बर्लिन में छोटे प्रवास के बाद भारत लौट आएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ब्रिटेन की यात्रा के दौरान बुधवार को लंदन के ऐतिहासिक सेंट्रल हॉल वेस्टमिंस्टर से दुनिया को संबोधित करेंगे। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, तिब्बती आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा और महान अमेरिकी नेता मार्टिन लूथर किंग जूनियर भी इस हॉल से भाषण दे चुके हैं। यूरोप इंडिया फोरम के अनुसार भारत की बात, सबके साथ कार्यक्रम बुधवार को आयोजित किया जाएगा, जिसमें मोदी दुनिया को संबोधित करेंगे।

वे 17 से 20 अप्रैल तक स्वीडन और ब्रिटेन की यात्रा पर रहेंगे। इस दौरान वे दोपक्षीय बैठकों के अलावा भारत व नोर्डिक नॉर्डिक देशों यानी नार्वे, फिनलैंड, आईलैंड और डेनमार्क के शिखर सम्मेलन और राष्ट्रमंडल देशों के प्रमुखों की बैठक को संबोधित करेंगे। ब्रिटेन से भारत लौटते हुए वे जर्मनी की राजधानी बर्लिन में भी रूकेंगे, जहां उनकी जर्मनी की चांसलर एजेंला मर्केल से मुलाकात होगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने यात्रा से पहले रविवार को जारी एक बयान में कहा गया कि वे स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टेफान लोफवेन के निमंत्रण पर 17 अप्रैल को स्टाकहोम में रहेंगे। स्वीडन की यह उनकी पहली यात्रा होगी। भारत और स्वीडन के बीच गहरे दोस्ताना संबंध हैं, जो लोकतांत्रिक मूल्यों और मुक्त, समावेशी व नियमों वाली वैश्विक व्यवस्था पर आधारित है।

मोदी ने इसमें कहा है - मैं और लोफवेन दोनों देशों की व्यवसाय जगत की प्रमुख हस्तियों से बातचीत करेंगे। इस बातचीत में व्यापार व निवेश, नवोन्मेष, कौशल विकास, स्मार्ट सिटी, स्वच्छ ऊर्जा और स्वास्थ्य व डिजिटलाइजेशन पर आपसी सहयोग की कार्ययोजना तैयार की जाएगी। मैं स्वीडन के राजा कार्ल सोलह गुस्ताफ से मुलाकात करूंगा। उन्होंने कहा कि 17 तारीख को उनकी स्वीडन के राजा कार्ल सोलहवें गुस्ताफ से भेंट होगी और प्रधानमंत्री लोफवेन के साथ दोपक्षीय बैठक होगी।

261 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

© 2018 ANF Foundation
Maintained by Quantumsoftech