मजदूरों के लिए चली विशेष ट्रेन - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

मजदूरों के लिए चली विशेष ट्रेन

नई दिल्ली।  कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए देश भर में लागू लॉकडाउन की वजह से देश के अलग अलग हिस्सों में फंसे मजदूरों, छात्रों, तीर्थयात्रियों, पर्यटकों आदि को उनके घर पहुंचाने की छूट देने के बाद अब केंद्र सरकार ने विशेष ट्रेन भी चलवा दी। कई राज्यों ने केंद्र से अनुरोध किया था कि जगह जगह फंसे लोगों को उनके गृह राज्य ले जाने के लिए विशेष ट्रेन चलाई जाए। शुक्रवार को राजस्थान, तेलंगाना आदि राज्यों से विशेष ट्रेनें रवाना करने का फैसला किया गया। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को इसके बारे में जानकारी दी।

मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने विशेष ट्रेन चलाने की जानकारी देते हए कहा कि राज्य सरकारें इसके लिए रेलवे बोर्ड से संपर्क करके प्लान तैयार कर लें। रेलवे ने लिंगमपल्ली से हटिया, नासिक से लखनऊ, अलूवा से भुब, नासिक से भोपाल, जयपुर से पटना और कोटा से हटिया तक छह श्रमिक ट्रेनें चलाने का ऐलान किया है। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बताया कि शुक्रवार को राजस्थान के कोटा शहर से दो स्पेशल ट्रेनें झारखंड के लिए आएंगी। इन ट्रेनों से कोटा में फंसे छात्रों को लाया जाएगा।

ट्रेनों से आवाजाही के दौरान शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करना जरूरी होगा। ट्रेनों को पहले सैनिटाइज किया जाएगा और हर यात्री की स्क्रीनिंग होगी। घर पहुंचाने के बाद भी इनकी मेडिकल जांच की जाएगी और 14 दिन क्वरैंटाइन में रखा जाएगा। स्पेशल ट्रेनों से यात्रा करने वाले हर यात्री को अपना चेहरा जरूर ढक कर रखना होगा। वे मास्क या गमछे आदि से यह काम कर सकते हैं।

जिस स्टेशन से यात्रा शुरू की जाएगी, वहां की राज्य सरकार यात्रियों के लिए खाने और पानी की व्यवस्था करेगी। ट्रेनों का टिकट राज्य सरकार की ओर से नियुक्त किए गए नोडल अफसर को थोक में दिया जाएगा। जिन लोगों को यात्रा के लिए चिह्नित किया जाएगा, उन्हें स्टेशन पर ही मास्क और सैनिटाइजर दिए जाएंगे। यात्री नॉन एसी कोच में यात्रा करेंगे, हर कोच के एक हिस्से में छह यात्री रहेंगे, आमतौर पर इनमें आठ यात्रियों के बैठने की व्यवस्था होती है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
राज्यों को टेस्टिंग बढ़ाने का निर्देश
राज्यों को टेस्टिंग बढ़ाने का निर्देश