टचडाउन की गलत जगह से हादसा! - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

टचडाउन की गलत जगह से हादसा!

कोझिकोड। केरल के कोझिकोड में शुक्रवार को हुए विमान हादसे के बारे में अहम सूचनाएं सामने आ रही हैं। हादसे के दूसरे दिन शनिवार को विमान का ब्लैक बॉक्स भी बरामद हो गया है। बताया जा रहा है कि टेबल टॉप हवाईअड्डा होने यानी पहाड़ी पर होने की वजह से हादसा नहीं हुआ, बल्कि विमान को लैंड कराने के लिए चुनी गई टचडाउन की जगह के कारण हादसा हुआ। बताया जा रहा है कि विमान निर्धारित जगह से एक किलोमीटर आगे जाकर उतरा और फिसल कर रनवे से बाहर हो गया। इसी वजह से विमान आगे दीवार से टकराया और दो टुकड़ों में बंट गया। इस हादस में मरने वालों की संख्या 18 पहुंच गई है।

मरने वाले लोगों में एक के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की रिपोर्ट आने के बाद राहत व बचाव में लगे लोगों के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं। राज्य की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने बचाव अभियान में जुटे सभी लोगों से एहतियान आइसोलेशन में रहने और अपनी जांच कराने को कहा है। इस बीच नागरिक विमानन मंत्री ने ऐलान किया कि हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को दस-दस लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा और गंभीर रूप से घायलों को दो-दो लाख रुपए मिलेंगे। केरल सरकार ने भी हादसे में मारे गए लोगों को दस-दास लाख रुपए देने का ऐलान किया है।

गौरतलब है कि दुबई से आ रहा एअर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान शुक्रवार शाम सात बज कर 40 मिनट पर भारी बारिश के बीच कोझिकोड हवाईअड्डे पर उतरने के दौरान हवाईपट्टी से फिसलने के बाद 35 फुट गहरी खाई में जा गिरा था और उसके दो टुकड़े हो गए थे।  दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है। नागरिक विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी भी विमान दुर्घटना के बाद की स्थिति व राहत कार्यों का जायजा लेने कोझिकोड पहुंचे हैं।

पुरी ने कहा कि वे नागरिक विमानन के वरिष्ठ अधिकारियों और पेशेवरों के साथ विचार-विमर्श करेंगे। पुरी ने ट्विट किया- दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान का डिजिटल फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर और कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर बरामद कर लिया गया है। विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो जांच कर रहा है।  डीजीसीए के एक अधिकारी ने बताया कि ये उपकरण विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो के पास हैं और इन्हें आगे की जांच के लिए दिल्ली भेजा जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});