भाजपा प्रत्याशी की गाड़ी में ईवीएम

Must Read

नई दिल्ली। असम में दूसरे चरण के मतदान के बाद गुरुवार को भाजपा के एक प्रत्याशी की गाड़ी में इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन यानी ईवीएम पकड़ी गई। लोगों ने मतदानकर्मियों को ईवीएम सहित भाजपा प्रत्याशी की गाड़ी में पकड़ा। बाद में चुनाव आयोग ने इस पर सफाई दी और कार्रवाई करते हुए चार अधिकारियों को निलंबित कर दिया। जिस मतदान केंद्र की ईवीएम भाजपा प्रत्याशी की गाड़ी से पकड़ी गई, उस मतदान केंद्र पर मतदान रद्द कर दिया गया हैं। अब वहां दोबारा मतदान होगा।

यह घटना असम की पथरकंडी विधानसभा क्षेत्र की है, जहां से भाजपा प्रत्याशी कृष्णेंदु पॉल की गाड़ी में ईवीएम मिले। गुरुवार को देर रात इसकी खबर आई। मतदान के बाद मतदानकर्मियों की एक टीम सीलबंद ईवीएम लेकर भाजपा प्रत्याशी की गाड़ी से जा रहे थे, जिसे गांव के लोगों ने रोक लिया। खबर है कि उन्होंने गाड़ी पर और मतदानकर्मियों के ऊपर हमला भी किया। इस मामले में सफाई देते हुए चुनाव आयोग ने कहा कि मतदानकर्मियों की गाड़ी खराब हो गई थी और उन्होंने पास से गुजर रही एक कार में लिफ्ट ली। आयोग की सफाई में कहा गया है कि ये कार संयोग से भाजपा उम्मीदवार की निकली।

इस गाड़ी पर हमला भी किया गया। पुलिस ने इस गाड़ी पर हमला करने वालों पर एफआईआर की और तत्काल ही ईवीएम को कब्जे में ले लिया गया। अधिकारियों ने बताया कि ईवीएम सुरक्षित है और इसके साथ कोई छेड़छाड़ नहीं हुई है। खबरों के मुताबिक, ये कार पथरकंडी से भाजपा प्रत्याशी कृष्णेंदु पॉल की थी। जब उनकी कार में ईवीएम मिली तो वहां हालात तनावपूर्ण हो गए थे। इस घटना को कई स्थानीय पत्रकारों ने भी अपने सोशल मीडिया पर शेयर किया। गौरतलब है कि असम में एक अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान हुआ था। इस दौरान 39 सीटों के लिए 74.64 फीसदी मतदान हुआ।

कांग्रेस ने आयोग पर उठाए सवाल

असम के पथरकंडी में भाजपा प्रत्याशी कृष्णेंदु पॉल की गाड़ी में इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन, ईवीएम मिलने से राजनीतिक हड़कंप मचा है। चुनाव आयोग और ईवीएम के ऊपर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू हो गया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और सांसद राहुल गांधी ने इस मामले में भाजपा के साथ-साथ चुनाव आयोग पर भी हमला बोला है। कांग्रेस नेताओं ने हर बार संयोग से भाजपा नेताओं की गाड़ी में ईवीएम मिलने का मुद्दा भी उठाया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया और कहा कि ऐसे कई मामले सामने आ रहे हैं और चुनाव आयोग को इन पर निर्णायक कदम उठाना चाहिए। प्रियंका गांधी ने कहा कि जब निजी गाड़ियों में ईवीएम मिलती हैं तो ऐसे मामलों को इकलौती घटना बताया जाता है और भूल मान कर खारिज कर दिया जाता है। उन्होंने कहा- वास्तव में ऐसी बहुत सारी घटनाएं हो रही हैं और कोई कदम नहीं उठाया जाता। चुनाव आयोग को कदम उठाना चाहिए। सभी राष्ट्रीय दलों को ईवीएम के इस्तेमाल पर दोबारा विचार करना चाहिए। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोशल मीडिया पर लिखा- चुनाव आयोग की गाड़ी खराब, भाजपा की नीयत खराब, लोकतंत्र की हालत खराब!

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

Ayodhya land scam News : योगी दरबार में दस्तावेज के साथ हाजिर हुए अधिकारी, कागजात भी जांचे

अयोध्या |  राम मंदिर जमीन की खरीदी पर हुए विवाद पर अब यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ एक्शन मोड...

More Articles Like This