आठवले ने शरद पवार को दिया एनडीए में आने का सुझाव

नई दिल्ली। मोदी सरकार में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री राम दास आठवले ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी मुखिया शरद पवार को एनडीए में शामिल होने का सुझाव दिया है। आठवले ने कहा है कि इससे देश और महाराष्ट्र दोनों का विकास होगा। शरद पवार के साथ आने पर महाराष्ट्र में भाजपा, राकांपा और आरपीआई का महागठबंधन बनेगा।

महाराष्ट्र के राज्यसभा सदस्य और एनडीए के सहयोगी दल रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष आठवले ने आईएएनएस से कहा, ‘शिवसेना को सपोर्ट करने में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) को कोई फायदा नहीं है।

महाराष्ट्र के विकास के लिए केंद्र से ज्यादा से ज्यादा पैसा मिलना चाहिए। इसलिए शरद पवार को एनडीए के साथ आने पर विचार करना चाहिए। अगर ऐसा होता है तो महाराष्ट्र में भाजपा, राकांपा और आरपीआई की महायुति बनेगी।’ आठवले ने कहा, शरद पवार महाराष्ट्र के बड़े नेता हैं। उन्हें किसानों, दलित, आदिवासी और ओबीसी की समस्याओं के बारे में जानकारी है। वह देश के कृषि मंत्री रहे हैं। ऐसे में मेरा निवेदन है कि उन्हें देश के विकास के लिए नरेंद्र मोदी के साथ आने चाहिए। ऐसा मेरा व्यक्तिगत मत है। महाराष्ट्र में भाजपा, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और आरपीआई की महायुति बनेए ऐसी मेरी व्यक्तिगत इच्छा है।

बता दें कि 2019 के विधानसभा चुनाव में महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना ने गठबंधन कर चुनाव लड़ा था। दोनों दलों को क्रमश: 105 और 56 सीटें मिलीं थीं। लेकिन मुख्यमंत्री पद को लेकर हुए विवाद पर शिवसेनाए भाजपा से अलग होकर कांग्रेस और एनसीपी के समर्थन से सरकार बनाने में सफल हुई थी। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के पास 54 और कांग्रेस के पास 44 विधायक हैं। राज्य में निर्दलीयों के पास 13 और दो विधायक एआईएमआईएम के पास हैं।

सरकार के अंदर बीते दिनों खींचतान की खबरें आने के बाद सियासी गलियारे में यह अटकलें लग रहीं थीं कि कहीं शरद पवार की पार्टी बीजेपी के साथ जाने का फैसला न कर लें। हालांकि एनसीपी ऐसी खबरों को अब तक खारिज करती रही है। लेकिन, मोदी सरकार के मंत्री और महाराष्ट्र के राज्यसभा सदस्य रामदास आठवले की ओर से पवार को एनडीए में आने का सुझाव देने से सियासी सरगर्मी बढ़ गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares