Black fungus: नौ हजार से ज्यादा मामले - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

Black fungus: नौ हजार से ज्यादा मामले

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की महामारी के साथ साथ ब्लैक फंगस की महामारी भी तेजी से फैल रही है। देश के 11 राज्यों ने इसे महामारी घोषित कर दिया है और युद्धस्तर पर इसे रोकने के प्रयास हो रहे हैं। इस बीच देश के सिर्फ 15 राज्यों में ब्लैक फंगस के मरीजों की  संख्या नौ हजार से ऊपर पहुंच गई है। राजधानी दिल्ली में पहली बार आंतों में ब्लैक फंगस के दो मामले मिले हैं, जिनसे चिंता बढ़ गई है।

अलग अलग राज्यों से मिली रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश सहित 15 राज्यों में ही अब तक ब्लैक फंगस के 9,320 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 235 लोगों की मौत हो चुकी है। सबसे ज्यादा पांच हजार मामले अकेले गुजरात में ही सामने आए हैं। इस संक्रमण के चलते कुछ मरीजों की आंख तक निकालनी पड़ रही है। हालांकि सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पूरे देश में अब तक ब्लैक फंगस के 8,848 मामले सामने आए हैं।

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक गुजरात में ब्लैक फंगस के 2,281 और महाराष्ट्र में दो हजार केस आ चुके हैं। राजस्थान में सात सौ और मध्य प्रदेश में 720 मामले बताए जा रहे हैं। वहीं दिल्ली में 197, हरियाणा में ढाई सौ, कर्नाटक में पांच सौ, तेलंगाना में साढ़े तीन सौ और आंध्र प्रदेश में 910 केस आने की जानकारी है। ब्लैक फंगस के दो रेयर केस दिल्ली में मिले हैं। यहां दो मरीजों की छोटी आंत में फंगस मिला है। दोनों का सर गंगाराम अस्‍पताल में इलाज चल रहा है। बायोप्‍सी से उनमें ब्‍लैक फंगस होने की पुष्टि हुई है। दोनों मरीज डायबिटीज से पीड़ित हैं और दोनों को कोरोना का संक्रमण हुआ था।

इस बीच 11 राज्यों ने ब्लैक फंगस को महामारी घोषित कर दिया है। हरियाणा ने सबसे पहले इसे महामारी घोषित किया था। उसके बाद राजस्थान ने भी इस संक्रमण को महामारी एक्ट में शामिल कर लिया। फिर केंद्र सरकार ने भी सभी राज्यों के कहा कि ब्लैक फंगस को महामारी कानून के तहत अधिसूचित किया जाए। इसके बाद उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश, ओड़िशा, कर्नाटक, तेलांगना और तमिलनाडु भी ब्लैक संक्रमण को महामारी घोषित कर चुके हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow