पूरे पंजाब में जलाये नरेन्द्र मोदी तथा अमित शाह के पुतले

चंडीगढ़। यूथ अकाली दल ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी के दुरूपयोग के विरोध में आज पूरे पंजाब में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के पुतले जलाये क्योंकि शांतिपूर्ण तरीके से तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान नेताओं और किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे सभी लोगों के खिलाफ नोटिस जारी किये गये थे।

यूथ अकाली दल के अध्यक्ष सरदार परमबंस सिंह रोमाणा ने बठिंडा में आंदोलन की अगुवाई करते हुए आज कहा कि प्रधानमंत्री तथा गृहमंत्री दोनों को इतिहास से सबक सीखना चाहिए। पंजाबियों ने हमेशा दमनकारी नीतियों का सामना किया है तथा जितना ज्यादा भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार शांतिपूर्ण आंदोलन को दबाने की कोशिश करती है पंजाबी उतने ही ज्यादा उत्साह से इसमें भाग लेंगे।

रोमाणा ने एनआईए द्वारा किसान आंदोलन में मदद करने वाले सभी लोगों को हाल ही में भेजे गए नोटिसों की निंदा करते हुये कहा कि परिवहन, लंगर या वित्तीय सहायता करने वाले हर किसी को निशाना बनाया जा रहा है। यह एनआईए के उन जनादेश के खिलाफ है जो आंतकी संपर्कों की जांच के लिए बनाया गया था।

उनके अनुसार कांग्रेस सरकार के स्कूल तथा काॅलेज खोलने के फैसले का मकसद किसान आंदोलन को कमजोर करना था क्योंकि इस तरह के कदम से कई किसानों को राज्य में अपने घर लौटने को मजबूर होना पड़ेगा। केन्द्र को अब इन कानूनों को तुरंत रदद करना चाहिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares