कृषि कार्य के दौरान सावधानी और स्वच्छता जरूरी

नई दिल्ली। सरकार ने लॉकडाउन के दौरान कृषि कार्य और बागवानी गतिविधियों को छूट दी है लेकिन इस दौरान सावधानी के तौर पर मास्क पहनने को अनिवार्य किया गया है और स्वच्छता पर पूरा ध्यान देने को कहा गया है।

कृषि कार्य को लेकर गृह मंत्रालय की ओर से जारी दिशा निर्देश में कहा गया है कि फार्म आपरेशन करते समय फेस मास्क पहनना अनिवार्य है। मास्क नहीं होने पर गमछा, तौलिया या अन्य पतले कपड़े काे तीन बार मोड़कर नाक और मुंह को ढंकना चाहिये। किसानों और मजदूरों को एक दिन इस्तेमाल किये गये सभी कपड़े को अगले दिन नहीं पहनना चाहिये।

इसे साबुन से धोने और धूप में सुखाने के बाद आगे उपयोग करना चाहिये। किसानों और मजदूरों को फसलों की कटाई के दौरान कम से कम तीन बार अच्छी तरह से साबुन वाले पानी से हाथ धोना चाहिये। कामगारों को भोजन के लिए अलग अलग बरतन का उपयोग करना चाहिये तथा पानी पीने के लिए अपने निजी बोतल या बरतन का उपयोग करना चाहिये। इसे किसी के साथ साझा नहीं करना चाहिये।

फलों एवं सब्जियों के पैकेजिंग के लिए उपयोग की जाने वाली सामग्री को भी साफ करना जरुरी है। पैक करने से पहले फलों एवं सब्जियों को साफ पानी में धोया जाना चाहिये। लाॅकडाउन के दौरान कृषि आपरेशन को सुनिश्चित करने के लिए कई सुझाव दिये गये हैं। सब्जी तथा डेयरी उत्पाद को अनिवार्य सेवाओं में रखा गया है। इस क्षेत्र में कार्य करने वाले किसानों को सुरक्षा उपायों के साथ छोटे बाजारों में आने जाने की अनुमति दी जानी चाहिये।

खाद्य आपूर्ति श्रृंखला को सुचारु बनाये रखने के लिए आधार कार्ड आधारित पास जारी किया जाना चाहिये। ऐप आधारित ई-कामर्स को बढावा दिया जाना चाहिये। इस दौरान मछली पकड़ने और उसकी बिक्री करने की भी छूट दी गयी है। देश के अधिकांश राज्यों में रबी फसलों की कटाई और खरीद का सिलसिला भी शुरु हो गया है तथा इस दौरान सावधानी बरतने के निर्देश जारी कर दिये गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares