nayaindia राफेल विमान सौदे को रद्द कराना चाहती थी कांग्रेस : मोदी - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

राफेल विमान सौदे को रद्द कराना चाहती थी कांग्रेस : मोदी

बल्लभगढ । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह फ्रांस के साथ राफेल लड़ाकू विमान के सौदे को रद्द कराना चाहती थी लेकिन राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार ने उसकी साजिश को विफल कर दिया। मोदी ने यहां एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि राफेल विमान के सौदे को लेकर इस पार्टी ने लोकसभा चुनाव के दौरान बहुत हायतौबा मचाई थी। उन्होंने कहा , इन लोगों ने पूरा जोर लगा दिया था कि ये विमान समझौता रद्द हो जाए, भारत में नया लड़ाकू विमान न आने पाए। लेकिन इन की तमाम कोशिशों के बावजूद भारत को पहला राफेल विमान सौंपा जा चुका है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने स्वदेशी तेजस लड़ाकू विमान को भी डिब्बे में बंद करने की तैयारी कर ली थी लेकिन उनकी सरकार ने सारी रुकावटों को दूर करके, तेजस की उड़ान को नए पंख लगाए और आज तेजस भारतीय वायुसेना की शान है। उन्होंने कहा ये कितना भी विरोध करें, कितनी ही साजिशें करें, राष्ट्रीय सुरक्षा और सेना के सशक्तिकरण के लिए भाजपा प्रतिबद्ध है और हम लगातार उसे गति दे रहे हैं।
कांग्रेस पर विकास के राह में बाधा पहुंचाने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा ,देश में हो रहे हर सुधार और हर परिवर्तन के सामने कांग्रेस और उसके जैसे दल दीवार बनकर खड़े हो जाते हैं। आपने देखा है कि कैसे तीन तलाक के खिलाफ कानून को इन लोगों ने हर बार रोका, हर तरह के बहाने बनाकर रोका। उन्होंने कहा कि देश तय कर चुका है अब सिर्फ विरोध और प्रतिरोध की राजनीति नहीं चलेगी। देश सिर्फ और सिर्फ विकास चाहता है। भाजपा और उसके साथी इसके लिए ईमानदारी से प्रयास कर रहे हैं। भाजपा का संकल्प पत्र, समर्पण का दस्तावेज होता है। हम हर संकल्प को पूरा करने का काम तेजी से कर रहे हैं।

इसे भी पढ़े : राष्ट्रीयता के मुद्दे पर बघेल ने भाजपा, संघ पर बोला हमला

राज्य की पूर्ववर्ती सरकारों पर भ्रष्टचार और रिश्वतखोरी का आरोप लगाते हुए श्री मोदी ने कहा कि पहले यहां सरकारी भर्ती का मतलब होता था- रिश्वतखोरी और युवाओं से लूट। नौकरियों के लिए जितने तरह के खेल होते थे, उन्होंने यहां के कई नेताओं को जेल तक पहुंचाया है। लेकिन ये स्थिति अब बदल चुकी है।सरकार श्रमिक वर्ग के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में सार्थक काम कर रही है। साठ वर्ष की आयु के बाद 3 हजार रुपये की नियमित पेंशन इसी सुरक्षा चक्र का हिस्सा है। छोटे किसानों, खेत मजदूरों, छोटे व्यापारियों और दुकानदारों को हर महीना पेंशन की सुविधा दी गयी है।

इसे भी पढ़े : गांधी पर भ्रामक जानकारी देने का षडयंत्र कर रहा है संघ: कांग्रेस

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार देश के लिए जान की बाजी लगाने वाले शहीदों के बच्चों का भी ध्यान रख रही है और सरकार बनते ही शहीदों के बच्चों की स्कॉलरशिप को बढ़ाने का फैसला लिया गया। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 पर कांग्रेस और अन्य दलों के विरोध को वोट बैंक की राजनीति करार देते हुए उन्होंने कहा कि यह इस राजनीति को जिंदा रखने का उनका विफल प्रयास है। उन्होंने कहा ,“ सिर्फ विरोध इनकी आदत बन गई है, यही उनकी परंपरा और तरीके हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.

9 + 4 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
दिल्ली के उप राज्यपाल का इस्तीफा
दिल्ली के उप राज्यपाल का इस्तीफा