नौकरी में 53 फीसदी तक कमी संभव - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

नौकरी में 53 फीसदी तक कमी संभव

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश भर में लागू 21 दिन के लॉकडाउन और उसके असर में पूरे देश में बड़ा आर्थिक संकट खड़ा हो सकता है और इसका रोजगार पर गहरा प्रभाव पड़ सकता है। भारतीय उद्योग परिसंघ, सीआईआई ने दावा किया है कि इस वजह से देश भर में 52 फीसदी नौकरियां जा सकती हैं। गौरतलब है कि लॉकडाउन की वजह से पूरे देश में कारोबारी गतिविधियां ठप्प हैं और लॉकडाउन हटने के बाद भी बहुत जल्दी सारी गतिविधियां बहाल होने की संभावना नहीं है।

बहरहाल, सीआईआई ने करीब दो सौ मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के बीच किए गए ऑनलाइन सर्वेक्षण ‘सीआईआई सीईओ स्नैप पोल’ के आधार पर कहा है कि मांग में कमी से ज्यादातर कंपनियों की आय गिरी है। इससे नौकरियां जाने का अंदेशा है। सर्वेक्षण के अनुसार- चालू तिमाही यानी अप्रैल-जून और पिछली तिमाही यानी जनवरी-मार्च के दौरान ज्यादातर कंपनियों की आय में 10 फीसदी से अधिक कमी आने की आशंका है और इससे उनका लाभ दोनों तिमाहियों में पांच प्रतिशत से अधिक गिर सकता है।

सीआईआई ने कहा है- घरेलू कंपनियों की आय और लाभ दोनों में इस तेज गिरावट का असर देश की आर्थिक वृद्धि दर पर भी पड़ेगा। रोजगार के स्तर पर इनसे संबंधित क्षेत्रों में 52 प्रतिशत तक नौकरियां कम हो सकती हैं। सर्वेक्षण के मुताबिक लॉकडाउन खत्म होने के बाद 47 फीसदी कंपनियों में 15 फीसदी से कम नौकरियां जाने की संभावना है। वहीं 32 फीसदी कंपनियों में नौकरियां जाने की दर 15 से 30 फीसदी होगी।

Latest News

Rajasthan में फिर टल सकता हैं मंत्रिमंडल में फेरबदल, अगस्त तक करना होगा इंतजार!
जयपुर | Rajasthan Cabinet Reshuffle: पंजाब की राजनीति में चल रही उठापटक को सुलझाने के बाद अब कांग्रेस आलाकमानों का पूरा फोकस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});