प्रशांत भूषण अवमानना के दोषी करार - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

प्रशांत भूषण अवमानना के दोषी करार

नई दिल्ली। देश की उच्च न्यायपालिका की आलोचना करने वालों को कड़ा सबक सिखाने का संदेश देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मशहूर वकील प्रशांत भूषण को अवमानना का दोषी करार दिया है। जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन जजों की बेंच ने शुक्रवार को प्रशांत भूषण को दोषी ठहराया। उनकी सजा पर 20 अगस्त पर बहस होगी। गौरतलब है कि प्रशांत भूषण ने एक ट्विट में देश में लोकतंत्र कमजोर होने में चार मुख्य न्यायाधीशों की भूमिका बताई थी और एक दूसरी ट्विट में उन्होंने मौजूदा चीफ जस्टिस के एक महंगी बाइक पर बैठे होने को लेकर टिप्पणी की थी।

जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस कृष्ण मुरारी की बेंच ने प्रशांत भूषण के दो ट्विट पर फैसला सुनाते हुए कहा कि अवमानना करने वाले के खिलाफ जो आरोप हैं, वे गंभीर हैं। अदालत ने इस मामले का खुद नोटिस लिया था। सर्वोच्च अदालत ने इस मामले में पिछले महीने ट्विटर को भी फटकार लगाई थी कि उसने ट्विट डिलीट क्यों नहीं किए थे। बहरहाल, कानून के कई जानकारों, पूर्व जजों और वरिष्ठ वकीलों ने प्रशांत भूषण के खिलाफ अवमानना का मामला खत्म करने की अपील की थी। पर अदालत ने किसी की नहीं सुनी।

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिन से सुप्रीम कोर्ट ने अवमानना के मामले में गंभीर रुख अख्तियार किया है। सुप्रीम कोर्ट ने इसी साल मई में तीन लोगों को अवमानना मामले में तीन महीने की जेल की सजा सुनाई थी। अदालत ने महाराष्ट्र एंड गोवा बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय कुर्ले, इंडियन बार एसोसिएशन के अध्यक्ष नीलेश ओझा और एनजीओ ह्यूमन राइट्स सिक्योरिटी कौंसिल के राशिद खान पठान को दोषी बता कर सजा सुनाई थी।

Latest News

हंस मत देना ! घूसखोर दरोगा को एंटी करप्शन टीम ने तौलिए में किया गिरफ्तार, समझ नहीं पा रहा था कि चेहरा छिपाए या तौलिया संभाले…
जानकारी के अनुसार आरोपी दरोगा को एंटी करेक्शन की टीम ने तौलिए और बनियान में गिरफ्तार किया है. टीम ने उसे कपड़े…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});