चुनाव आयोग ने किया उपचुनावों का ऐलान

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश सरकार के लिए जीवन-मरण का सबब बनी 28 विधानसभा सीटों सहित देश के 10 राज्यों की 56 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव का ऐलान कर दिया गया है। चुनाव आयोग ने मंगलवार को इसकी घोषणा करते हुए कहा कि 10 राज्यों की 54 विधानसभा सीटों पर तीन नवंबर को मतदान होगा। मणिपुर की दो विधानसभा सीटों और बिहार की एक लोकसभा सीट पर सात नवंबर को मतदान होगा। वोटों की गिनती बिहार विधानसभा के साथ ही 10 नवंबर को होगी।

चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात, उत्तर प्रदेश, मणिपुर सहित 10 राज्यों की 56 विधानसभा सीटों और बिहार की एक सीट पर मतदान का ऐलान कर दिया है पर असम, केरल, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल की सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव का ऐलान नहीं किया है। चुनाव आयोग का कहना है कि इन राज्यों में कुछ मुश्किलें हैं, इसलिए मौजूदा स्थिति में उपचुनाव नहीं करवाने का फैसला लिया गया। माना जा रहा है कि इन राज्यों में कोरोना वायरस के ज्यादा केसेज की वजह से उपचुनाव टाला गया है।

इन चुनावों में सबसे दिलचस्प और प्रतिष्ठा वाली लड़ाई मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर है। वहां भाजपा अपनी सत्ता बचाने और कांग्रेस नेता कमलनाथ छह महीने पहले खोई सत्ता वापस पाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। इस उपचुनाव में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए ज्योतिरादित्य सिंधिया की साख भी दांव पर लगी है। इन 28 में से 27 सीटों पर पहले कांग्रेस का कब्जा था। इनमें से 22 विधायक बागी होकर सिंधिया के साथ ही भाजपा में गए थे। भाजपा को अपनी सरकार को स्थिर बनाने के लिए बेहतर प्रदर्शन की जरूरत है तो दूसरी ओर कांग्रेस ज्यादा सीटें जीत कर फिर से अपनी सरकार बनाने के लिए चुनाव लड़ेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares