• डाउनलोड ऐप
Tuesday, April 13, 2021
No menu items!
spot_img

मोदी पर ‘हर साल खास है’की श्रृंखला जारी

Must Read

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सात अक्टूबर 2001 को पहली बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे और उसके बाद के 20 साल की इस राजनीतिक यात्रा पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उनके हर वर्ष की एक प्रमुख उपलब्धि पर आज ‘ हर साल खास है’ की एक श्रृंखला जारी की।

गुजरात के चार बार लगातार मुख्यमंत्री रहे मोदी को भाजपा ने 2013 में अपना प्रधानमंत्री उम्मीदवार घोषित किया और मई 2014 में उनकी अगुवाई में भाजपा ने लोकसभा चुनाव लड़ा और अपने बूते पूर्ण बहुमत हासिल किया।

यह तीन दशकों के बाद पहला मौका था कि किसी एक दल को पूर्ण बहुमत मिला। चुनाव हालांकि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के रुप में लड़ा गया था और केंद्र में मोदी की अगुवाई में राजग की सरकार बनी। भाजपा की तरफ से मोदी के 20 साल में किए गए 20 बड़े काम गिनाए वे हैं हर साल खास।

वर्ष 2001 में सात अक्टूबर को मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

वर्ष 2002 में मोदी ने गुजरात विधान सभा चुनाव की अगुवाई की और उनके नेतृत्व में गुजरात बीजेपी के इतिहास में चुनाव में रिकॉर्ड-तोड़ सीटें आयीं।

वर्ष 2003 में पहले ‘वाइब्रेंट गुजरात’ ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया गया। समिट के दौरान 14 अरब डॉलर के 76 सहमति ग्यापन हस्ताक्षर किये गये।

वर्ष 2004 में बेटियों की पढ़ाई को बढ़ावा देने के लिए कन्या केलवणी योजना और शाला प्रवेशोत्सव प्रोग्राम की शुरुआत की गई।

वर्ष 2005 में राज्य में शिशु लिंग अनुपात में कमी को रोकने के लिए बेटी बचाओ अभियान लांच किया गया। अभियान के बाद राज्य में बेटियों की जन्म दर में वृद्धि देखी गई।

वर्ष 2006 में गुजरातवासियों को दिया ज्योतिग्राम योजना का तोहफा।

वर्ष 2007 में मोदी के नेतृत्व में पार्टी ने तीसरा विधान सभा चुनाव जीता और वह गुजरात के सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाले मुख्यमंत्री बने।

वर्ष 2008में गुजरात की धरती पर टाटा नैनो का किया स्वागत, कार मैन्युफैक्चरिंग का गुजरात हब बना।

वर्ष 2009में राज्य के आम लोगों के जीवन को आसान बनाने के लिए ई-ग्राम, विश्व-ग्राम योजना का किया उद्घाटन।

वर्ष 2010 में गुजरात के 50 साल के इतिहास को अगले 1,000 साल के लिए सहेजने के लिए 90 किलो के टाईम कैप्सूल में किया सील।

वर्ष 2011 में 17 सितम्बर को सद्भावना मिशन कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें लाखों लोगों ने हिस्सा लिया।

वर्ष 2012 में 26 दिसम्बर को मोदी चौथी बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने।

वर्ष 2013 में 13 सितम्बर को भाजपा की संसदीय बोर्ड की बैठक में मोदी को पार्टी की ओर से प्रधानमंत्री पद का उमीदवार बनाने का निर्णय लिया गया।

वर्ष 2014 में 26 मई को मोदी ने भारत के 15वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।

वर्ष 2015 में 21 जून को दुनिया भर में पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया।

वर्ष 2016 में भ्रष्टाचार, काले धन और जाली मुद्रा से लड़ने के लिए डीमोनेटाईजेशन किया गया और डिजिटल लेन-देन के लिए भीम–यूपीआई लॉन्च किया गया।

वर्ष 2017 में एक देश एक कर प्रणाली, वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू किया गया।

वर्ष 2018 में दुनिया की सबसे उंची प्रतिमा स्टेचू ऑफ़ यूनिटी राष्ट्र को समर्पित किया गया।

वर्ष 2019 में मोदी प्रचंड जीत के साथ लागातार दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री बने।

वर्ष2020में सही समय पर पूर्ण लॉकडाउन लगाकर कोरोना को महामारी बनने से रोका। जन-जन तक बीमारी से लड़ने की जानकारी पहुंचाई और लोगों को जागरुक किया।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

कोरोना की दूसरी लहर से बचें!

लोगों को सरकारों के फैलाए झूठ में नहीं फंसना चाहिए और न नेताओं के आचरण का अनुसरण करना चाहिए।...

More Articles Like This