महामारी और चीन पर जी-7 देशों का ध्यान - Naya India
ताजा पोस्ट | समाचार मुख्य| नया इंडिया|

महामारी और चीन पर जी-7 देशों का ध्यान

लंदन। ब्रिटेन में चल रहे जी-7 देशों की बैठक में दुनिया की सात बड़ी आर्थिक शक्तियां कोरोना की महामारी और चीन से निपटने के उपायों पर विचार कर रही हैं। चीन की आलोचना के साथ साथ जी-7 देशों की बैठक में चीन के बेल्ट एंड रोड प्रोजेक्ट का जवाब देने के लिए बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड यानी बी3डब्लु योजना की घोषणा की है। अमेरिका ने इस योजना की रूप-रेखा तैयार की है और राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इसका प्रस्ताव पेश किया। इसके अलावा जी-7 की बैठक में महामारी को रोकने और वैक्सीन की उपलब्धता के बारे में भी अहम फैसले किए।

जी-7 देशों के नेताओं ने शनिवार को गरीब देशों में इंफ्रास्ट्रक्चर सुधारने के लिए एक प्लान सामने रखा है। ये प्लान चीन के वन बेल्ड वन रोड प्रोजेक्ट के खिलाफ लाया गया है। इसका नेतृत्व अमेरिका करेगा। जी-7 नेताओं की मुलाकात में राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ये प्रस्ताव रखा था। प्रस्ताव को बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड यानी बी3डब्लु नाम दिया गया है। गौरतलब है कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग ने 2013 में वन बेल्ट वन रोड प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी। इस प्रोजेक्ट के जरिए चीन अपनी कनेक्टिविटी सीधे यूरोप तक बनाना चाहता है। कई देशों को लोन देकर चीन ने उन्हें अपने प्रोजेक्ट में शामिल कर लिया है।

इसके अलावा जी-7 देशों के नेताओं ने आने वाली किसी भी महामारी से एक सौ दिन के अंदर निपटने की योजना बनाई है। इस प्रस्ताव को जल्दी मंजूर किया जा सकता है। इसे कार्बिस बे डिक्लेरेशन नाम दिया गया है। ब्रिटेन ने बयान जारी कर कहा है कि जी-7 देशों के नेताओं ने इस प्रस्ताव मंजूरी देने का फैसला किया है। इस सम्मेलन में कॉरपोरेट टैक्स बढ़ाने के प्रस्ताव की मंजूरी भी होनी है, जिस पर पिछले दिनों जी-7 देशों के वित्त मंत्री सहमत हुए थे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *