गैस लीक, 11 की मौत

विशाखापट्टनम। आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में गुरुवार को तड़के एक बहुराष्ट्रीय कंपनी के केमिकल संयंत्र में गैस का रिसाव हो गया, जिसमें दो बच्चों सहित 11 लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा करीब एक हजार लोग गैस की चपेट में आकर बीमार हुए, जिनमें से तीन सौ लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। दक्षिण कोरिया की कंपनी एलजी के पॉलिमर संयंत्र गुरुवार को सुबह साढ़े पांच बजे गैस का रिसाव हुआ, जिसका असर पांच किलोमीटर तक के इलाके में दिखा। अधिकारियों ने बताया कि गैस रिसाव ने संयंत्र के पांच किलोमीटर के दायरे में स्थित गांवों को प्रभावित किया है।

जो गैस लीक हुई, वह पीवीसी यानी स्टाइरीन कहलाती है। यह न्यूरो टॉक्सिन है। यह दम घोंट देने वाली गैस है। सांसों के जरिए शरीर में चली जाए तो यह 10 मिनट में ही असर दिखाना शुरू कर देती है। बताया जा रहा है कि यह हादसा तड़के ढाई बजे के के करीब एलजी पॉलिमर्स इंडस्ट्री के संयंत्र में हुआ। सुबह करीब साढ़े पांच बजे न्यूट्रिलाइजर्स के इस्तेमाल के जरिए हालात पर काबू पाया गया।

सुबह साढ़े पांच बजे तक गैस पांच किलोमीटर के दायरे में आने वाले पांच छोटे गांवों में फैल हो चुकी थी। हादसे में शाम तक दो बच्चों सहित 11 लोगों के मारे जाने की खबर थी। यह हादसा विशाखापत्तनम से करीब 30 किलोमीटर वेंकटपुरम गांव में हुआ। एक हजार से ज्यादा लोग बीमार हैं। अधिकारियों ने बताया कि 25 लोग वेंटिलेटर पर हैं, जिनमें 15 बच्चों की हालत नाजुक है। मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी खुद हालात पर नजर रखे हुए हैं और उन्होंने बीमार लोगों के इलाज के पुख्ता बंदोबस्त का आदेश दिया है।

एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, एनडीएमए और नौसेना की टीम ने राहत अभियान चला कर लोगों को बचाया। एनडीआरएफ के महानिदेशक एसएन प्रधान ने बाद में बताया कि कि अब स्थिति काबू में है। उन्होंने कहा कि यह कोशिश की जा रही है कि और लीकेज नहीं हो। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्‌डी से फोन पर बात की। केंद्र सरकार की ओर से विशेषज्ञों की टीम भेजने का फैसला लिया गया है। आंध्र प्रदेश सरकार ने मरने वालों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है। जो लोग वेंटिलेटर पर हैं, उनके लिए आंध्र प्रदेश सरकार की ओर से कुल 10 लाख रुपए की मदद दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares