• डाउनलोड ऐप
Monday, April 19, 2021
No menu items!
spot_img

सरकार ने दी गलत सूचना, 744 डॉक्टर मरे हैं!

Must Read

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वाले डॉक्टरों की संख्या संसद में गलत बताई है। डॉक्टरों के संगठन इंडियन मेडिकल एसोसिएशन यानी आईएमए ने कोरोना से मरने वाले डॉक्टरों की संख्या के बारे में केंद्र सरकार की ओर से दी गई जानकारी पर बुधवार को हैरानी जताई। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने मंगलवार को संसद में बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से देश भर में 162 डॉक्टरों की मौत हुई है। आईएमए का कहना है कि देश में कुल 744 डॉक्टरों की मौत हुई है।

सरकार की ओर से दी गई जानकारी पर हैरानी जताते हुए आईएमए के अध्यक्ष जेए जयलाल ने कहा कि केंद्र की ओर से जारी आंकड़ों में विरोधाभास है। देश में कोरोना से 744 डॉक्टरों की मौत हुई है। इससे पहले मंगलवार को स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने राज्यसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में बताया कि कोरोना से देश में 162 डॉक्टरों, 107 नर्सों और 44 आशा कार्यकर्ताओं की मौत हुई है। चौबे ने यह भी बताया कि यह आंकड़े 22 जनवरी तक राज्यों से मिली सूचनाओं पर आधारित हैं।

आईएमए के अध्यक्ष जेए जयलाल ने स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे को चिट्ठी लिखी है, जिसमें कहा है कि केंद्र की ओर से जारी आंकड़ों में विरोधाभास है। उन्होंने लिखा है- कोरोना की वजह से 744 डॉक्टरों की मौत हुई है। कोरोना जैसी महामारी के दौरान डॉक्टरों ने चिकित्सा पेशे की सर्वश्रेष्ठ परंपराओं में राष्ट्र की सेवा करने का विकल्प चुना था। आईएमए अध्यक्ष ने सरकार के आंकड़ों पर सवाल उठाते हुए सरकारी उदासीनता की निंदा भी की। साथ ही कोरोना पीड़ितों के परिवारों के लिए मुआवजा देने में देरी का मसला भी उठाया।

डेढ़ लाख रह गए एक्टिव केस!

देश में कोरोना वायरस के मरीजों की रोजाना की औसत संख्या में तेजी से कमी आ रही है और साथ ही एक्टिव केसेज की संख्या भी घटती जा रही है। बुधवार को देर रात तक देश में एक्टिव केसेज की संख्या घट कर एक लाख 52 हजार रह गई थी। एक करोड़ चार लाख 75 हजार से ज्यादा लोग इलाज से ठीक हो चुके हैं, जबकि एक लाख 54 हजार से कुछ ज्यादा लोगों की मौत हुई है। एक्टिव केसेज के मामले में भारत अब दुनिया में 17वें स्थान पर पहुंच गया है।

इस बीच बुधवार को देश में सर्वाधिक संक्रमित राज्यों की सूची में केरल दूसरे स्थान पर पहुंच गया। कर्नाटक को पीछे छोड़ कर अब केरल दूसरे स्थान पर आ चुका है। उसने तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश को पहले ही पीछे छोड़ दिया था। बुधवार को देर रात तक केरल में 6,356 नए मामले आए, जिसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़ कर नौ लाख 44 हजार 710 हो गई। कर्नाटक में संक्रमितों की संख्या नौ लाख 40 हजार के करीब है। देश में संक्रमितों की कुल संख्या एक करोड़ आठ लाख के करीब पहुंच गई है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

कोरोना का तांडव! देशभर में पौने तीन लाख नए केस आए सामने, कोरोना से हुई मौतों ने तोड़ा रिकाॅर्ड

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना का संकट (Coronavirus in India) लगातार गहराता जा रहा है। नाइट कर्फ्यू, लॉकडाउन और...

More Articles Like This