सीमा पर तनाव घटने के संकेत

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच पिछले एक महीने से चल रहे तनाव के बीच खबर है कि सैन्य अधिकारियों के स्तर की बातचीत के बाद अब तनाव घटने लगा है और दोनों तरफ सेनाएं पीछे हटी हैं। पूर्वी लद्दाख के गालवान, पेगांग झील और डेमचक में पिछले एक महीने से तनाव चल रहा है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, चीन ने गालवान में तैनात अपने सैनिक और बख्तरबंद गाड़ियां ढाई किलोमीटर पीछे बुला ली हैं। भारत ने भी इस इलाके में तैनात अपने जवानों की तादाद कम की है।

खबरों के मुताबिक, सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि सैनिकों को वापस लेने की प्रक्रिया रविवार देर रात और सुबह जल्दी शुरू हो गई थी। इससे पहले पूर्वी लद्दाख में सेनाओं के बीच तनाव खत्म करने पर भारत और चीन के बीच शनिवार को लेफ्टिनेंट जनरल स्तर के सैन्य कमांडरों के बीच वार्ता हुई थी। विदेश मंत्रालय ने इसकी जानकारी देते हुए बताया था कि चीन शांति से पूरे विवाद को सुलझाने के लिए तैयार है।

विदेश मंत्रालय ने कहा था कि बातचीत बेहद शांतिपूर्ण और गर्मजोशी से भरे माहौल में हुई। इस बात पर सहमति बनी कि मसले का जल्‍दी हल निकलने से रिश्‍ते आगे बढ़ेंगे। बताया जा रहा है कि इसके अगले दिन यानी रविवार से ही भारत और चीन के सैनिकों ने आपसी सहमति के तहत हटना शुरू किया है। सरकारी सूत्रों ने मंगलवार को यह भी बताया कि बुधवार को पूर्वी लद्दाख के हॉट स्प्रिंग्स इलाके में सैन्य स्तर की एक और वार्ता होगी।

सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया है कि चीनी सैनिकों की एक अच्‍छी खासी संख्‍या वापस ले ली गई है लेकिन इस बारे में कोई सटीक संख्या नहीं बताई गई है। सूत्रों के मुताबिक चूंकि अगले कुछ दिनों में बातचीत होनी है, ऐसे में चीनी सेना ने कुछ क्षेत्रों से अपने सैनिकों को हटा लिया है। इस देखते हुए भारत ने भी अपने कुछ सैनिकों और वाहनों को इन क्षेत्रों से हटाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares