nayaindia भारत-चीन में छह जून को वार्ता - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

भारत-चीन में छह जून को वार्ता

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच पिछले सीमा पर करीब एक महीने से चल रही तनातनी के बीच खबर है कि छह जून को दोनों देशों के बीच लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की पहली बातचीत होगी। गौरतलब है कि दोनों देशों के बीच पहले सिक्किम के नाकूला में टकराव हुआ था। उसके बाद लद्दाख में चीनी सैनिकों के घुसपैठ की खबर आई थी। अभी दोनों देशों ने वास्तविक नियंत्रण रेखा, एलएसी पर सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है। हालांकि दोनों देशों की ओर से कहा गया कि हालात स्थिर हैं और दोनों देशों के बीच सैन्य व कूटनीतिक मेकानिज्म है, जिसके बीच संवाद से सारे मामले सुलझाए जाएंगे।

बहरहाल, न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि भारत की ओर से 14वीं बटालियन के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह चर्चा में शामिल होंगे। इस बीच सरकार ने सोशल मीडिया पर इस बारे में चल रही खबरों को खारिज किया है। सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने ये दावा किया है कि रक्षा मंत्री ने मीडिया से बातचीत में चीन के सैनिकों की घुसपैठ की बात मानी है।

गौरतलब है कि पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच एक महीने से भी ज्यादा समय से तनाव बना हुआ है। अलग अलग खबरों के मुताबिक चीन के सैनिकों ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की है। चीन ने सीमा पर सैनिकों की संख्या भी बढ़ाई है। दोनों देशों के सैनिकों के बीच पिछले दिनों कई बार झड़प भी हुई थी। न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक विवाद सुलझाने के लिए दोनों देशों की सेनाओं के बीच मंगलवार को भी बातचीत हुई थी। लद्दाख में सीमा विवाद को लेकर अब तक 10 बार चर्चा हो चुकी है।

दूसरी ओर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बुधवार को एक बार फिर सरकार से सीमा पर तनाव के बारे में सवाल पूछे। राहुल ने पूछा- क्या सरकार पुख्ता तौर पर बता सकती है कि चीन का एक भी सैनिक भारतीय सीमा में नहीं घुसा? राहुल गांधी पहले भी कह चुके हैं कि सीमा विवाद पर सरकार के चुप रहने से अटकलें बढ़ रही हैं, सरकार को साफ साफ बताना चाहिए कि क्या चल रहा है?

Leave a comment

Your email address will not be published.

one + nineteen =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
चीन की टक्कर में नया पैंतरा
चीन की टक्कर में नया पैंतरा