लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ा

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 मई को राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा था कि कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए देश भर में लागू लॉकडाउन का विस्तार होगा। साथ ही उन्होंने कहा था कि 18 मई से लागू होने वाला लॉकडाउन पूरी तरह से नए रंग-रूप वाला होगा। पर केंद्र सरकार ने चौथे चरण के लॉकडाउन के लिए जो दिशा-निर्देश जारी किए हैं वे सारे पुराने रंग-रूप वाले ही हैं। चौथे चरण का लॉकडाउन 31 मई तक होगा और इस दौरान लगभग सारी सेवाएं पहले की तरह बंद रहेंगी।

चौथे चरण के लॉकडाउन में एक बड़ा बदलाव यह किया गया है कि अब राज्य सरकारें तय करेंगी कि कोरोना संक्रमितों की संख्या के लिहाज से कौन सा क्षेत्र रेड, ऑरेंज या ग्रीन जोन में आएगा। पहले यह काम केंद्र सरकार कर रही थी। एक दूसरा बदलाव यह हुआ है कि राज्यों की अपनी सीमा के अंदर बस की सेवाएं शुरू हो जाएंगी। हालांकि इसमें भी कंटेनमेंट जोन को इस सेवा से बाहर रखा गया है। राज्यों की आपसी सहमति से बसों की आवाजाही के बारे में फैसला होने की बात कही गई है पर सबको पता है कि कोई राज्य इस समय अपनी सीमा खोलने को राजी नहीं है।

इसके अलावा चौथे चरण के लॉकडाउन में सारी पाबंदियां पहले की तरह ही रहेंगी। केंद्र सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों के मुताबिक 31 मई तक मेट्रो और रेल सेवाएं बंद रहेंगी। घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर भी 31 मई तक पाबंदी जारी रहेगी। इसी तरह चौथे चरण में भी शॉपिंग मॉल बंद रहेंगे और सभी धार्मिक स्थल भी बंद रहेंगे। गौरतलब है कि दिल्ली सरकार ने ऑड-इवन योजना के तहत शॉपिंग मॉल्स खोलने का सुझाव दिया था। बहरहाल, चौथे चरण में भी कंटेनमेंट जोन में बस सेवाएं नहीं होगी और बुजुर्ग व दस साल से कम उम्र के बच्चों को घर पर रहने को कहा गया है। इस अवधि में यानी में शाम सात बजे से सुबह सात बजे तक कर्फ्यू जारी रहेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहला लॉकडाउन 24 अप्रैल को घोषित किया था, जो 21 दिन का था, चौथा चरण पूरा होने के बाद भारत में लॉकडाउन के 68 दिन हो जाएंगे। चीन के वुहान में 73 दिन तक लॉकडाउन रहा था। बहरहाल, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए लागू लॉकडाउन की अवधि 31 मई तक बढ़ाई गई। इसके मुताबिक अब रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन राज्य तय करेंगे। यह भी तय किया गया है कि स्वास्थ्यकर्मी एक राज्य से दूसरे राज्य में आ जा सकते हैं। इसके अलावा स्टेडियम और स्पोर्ट्स काम्पलेक्स खोलने की इजाजत दे गई है पर इनमें मैच बिना दर्शक के कराने होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares