भूख में भारत 94वें स्थान पर

नई दिल्ली। भारत में विकास के तमाम बड़े बड़े दावों के बीच हकीकत यह है कि देश भूख के सूचकांक में 94वें स्थान पर है। ग्लोबल हंगर इंडेक्स ने शुक्रवार को यह रिपोर्ट जारी की। दुनिया के 107 देशों की इस सूची में भूख और कुपोषण के मामले में भारत गंभीर श्रेणी में 94वें स्थान पर है। यानी भारत से नीचे दुनिया के सिर्फ 13 देश हैं। बाकी सभी देशों की स्थिति भारत से बेहतर है। पाकिस्तान, बांग्लादेश और म्यांमार जैसे देश भी भारत से बेहतर स्थिति में हैं। इससे पहले 115 देशों की रैंकिंग में भारत 103वें स्थान पर था।

दुनिया भर में भूख और कुपोषण की स्थिति पर नजर रखने वाली वेबसाइट ग्लोबल हंगर इंडेक्स की शुक्रवार को जारी हुई रिपोर्ट शनिवार को सामने आई। जानकारों का कहना है कि कुपोषण से निपटने में ढीले रवैए और बड़े राज्यों के खराब प्रदर्शन की वजह से भारत की रैंकिंग नीचे रही है। ग्लोबल हंगर इंडेक्स में बांग्लादेश, पाकिस्तान और म्यांमार भी भारत की तरह ही गंभीर श्रेणी में रखे गए हैं, लेकिन तीनों की रैंक भारत से ऊपर है। बांग्लादेश 75वें, म्यांमार 78वें और पाकिस्तान 88वें नंबर पर है। नेपाल 73वीं रैंक के साथ मॉडरेट हंगर श्रेणी में है। इसी श्रेणी में शामिल श्रीलंका का 64वां नंबर है।

ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में पांच साल तक के बच्चों में कुपोषण की दर 37.4 फीसदी और शारीरिक विकास कमजोर रहने की दर 17.3 फीसदी है। पांच साल तक के बच्चों में शिशु मृत्यु दर 3.7 फीसदी है। इसमें बताया गया है कि देश की 14 फीसदी आबादी को पूरा पोषण नहीं मिल रहा। इस रिपोर्ट में 31 देश गंभीर श्रेणी में शामिल हैं, जिसमें भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान शामिल हैं।

हंगर इंडेक्स पर राहुल का निशाना

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट को लेकर केंद्र सरकार पर हमला किया है। भूख और कुपोषण के मामले में 107 देशों की सूची में भारत के 94वें स्थान पर होने की खबर आने के बाद राहुल ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार गरीबों के लिए कुछ नहीं कर रही है। उन्होंने ट्विट कर कहा- भारत का गरीब भूखा है, क्योंकि सरकार सिर्फ अपने कुछ खास मित्रों की जेबें भरने में लगी है।

राहुल ने इसके साथ ग्लोबल हंगर इंडेक्स की सूची भी जारी की। ध्यान रहे राहुल गांधी ने पिछले दो-तीन में दो बार भारत के मुकाबले पाकिस्तान और बांग्लादेश की स्थिति बेहतर होने पर ट्विट किया है। उन्होंने कोरोना से मुकाबले में इन दोनों देशों की रणनीति भारत से बेहतर होने की एक रिपोर्ट पर भी केंद्र सरकार को घेरा था और प्रति व्यक्ति जीडीपी की दर में बांग्लादेश के आगे निकलने पर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा था। ग्लोबल हंगर इंडेक्स पर में ये दोनों देश भारत से बेहतर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares