एयर फोर्स स्टेशन पर आतंकी हमला - Naya India jammu airforce station attack
देश | जम्मू-कश्मीर | समाचार मुख्य| नया इंडिया| %%title%% %%page%% %%sep%% %%sitename%% jammu airforce station attack

एयर फोर्स स्टेशन पर आतंकी हमला

जम्मू। जम्मू कश्मीर की आठ पार्टियों के 14 नेताओं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात के दो दिन बाद रविवार को आतंकवादियों ने जम्मू में वायु सेना के हवाईअड्डे के अंदर हमला ( jammu airforce station attack ) किया। एयरफोर्स स्टेशन के तकनीकी एरिया में पांच मिनट के अंतराल पर दो धमाके हुए। माना जा रहा है कि आतंकवादी एयर फोर्स के विमानों को निशाना बनाने वाले थे। इन धमाकों में दो लोगों जख्मी हुए हैं। पुलिस इस सिलसिले में कुछ संदिग्धों से पूछताछ कर रही है। ड्रोन के जरिए हमला किए जाने से नजरिए से भी इस घटना की जांच की जा रही है।

भारतीय वायु सेना इस बारे में जांच कर रही है कि क्या यह कोई आतंकी हमला था? हालांकि जम्मू कश्मीर पुलिस ने इसे आतंकी हमला करार दिया है। जम्मू कश्मीर पुलिस के डीजीपी दिलबाग सिंह ने इसे आतंकी हमला बताया है और कहा कि पहली बार आतंकी हमले में ड्रोन का इस्तेमाल हुआ है। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री की राजनीतिक दलों से बातचीत को लेकर पाकिस्तान के साथ साथ आतंकी संगठनों में खलबली मची है और उस बौखलाहट में इस घटना को अंजाम दिया गया है।

दिमाग में फैले ब्लैक फंगस को समाप्त करने के लिये देश में पहली बार बिना चीर-फाड़ ब्रेन सर्जरी!

भारतीय वायु सेना ने ट्विट किया कि जम्मू वायुसेना स्टेशन के तकनीकी क्षेत्र में रविवार तड़के कम तीव्रता वाले दो विस्फोट होने की सूचना मिली। इनमें से एक विस्फोट में एक इमारत की छत को मामूली नुकसान पहुंचा, जबकि दूसरा विस्फोट खुले क्षेत्र में हुआ। वायु सेना ने कहा- किसी भी उपकरण को कोई नुकसान नहीं हुआ। असैन्य एजेंसियों के साथ मिल कर जांच की जा रही है।

रक्षा मंत्री के कार्यालय ने ट्विट किया- रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू में वायु सेना स्टेशन में आज हुई घटना ( jammu airforce station attack ) के बारे में वायु सेना के उप प्रमुख एयर मार्शल एचएस अरोड़ा से बात की। एयर मार्शल विक्रम सिंह स्थिति का जायजा लेने जम्मू पहुंच रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि विस्फोटों में आतंकवादी नेटवर्क की शामिल होने सहित विभिन्न पहलुओं की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया को विस्फोटों के बारे में बताया गया है। वायु सेना प्रमुख शनिवार से बांग्लादेश के तीन दिन के दौरे पर हैं।

Click to Know : डेल्टा प्लस वैरिएंट क्या है, क्या ये कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी है..

घटना के बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को कुछ ही मिनटों में सील कर दिया। सूत्रों ने बताया कि हवाई प्रतिष्ठान में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों और भारतीय वायु सेना के अधिकारियों की उच्चस्तरीय बैठक हुई। वायु सेना, राष्ट्रीय जांच एजेंसी, एनआईए सहित विभिन्न एजेंसियों की जांच टीम भी हवाई प्रतिष्ठान पहुंच गई हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow