झारखंड में भड़के भाजपा के सहयोगी - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

झारखंड में भड़के भाजपा के सहयोगी

रांची। महाराष्ट्र के बाद अब झारखंड में भी भाजपा की सहयोगी पार्टियों ने तेवर दिखाए हैं।

भाजपा को दो सहयोगी पार्टियों आजसू और लोजपा ने अकेले लड़ने का ऐलान किया है।

असल में इन दोनों पार्टियों के साथ सीट बंटवारे को लेकर पेंच फंस गया।

ध्यान रहे बिहार में भाजपा की सहयोगी जनता दल यू ने पहले ही,

झारखंड की सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

बिहार और केंद्र सरकार में भाजपा की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी ने

झारखंड में अकेले लड़ने का ऐलान किया है।

लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने ट्विट करके कहा है कि,

झारखंड में चुनाव लड़ने का आखिरी फ़ैसला प्रदेश इकाई को लेना था।,

लोक जनशक्ति पार्टी झारखंड प्रदेश इकाई ने

यह फ़ैसला किया है पार्टी 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी।

उन्होंने यह भी कहा कि मंगलवार की देर शाम तक पार्टी के

उमीदवारों की पहली सूची का एलान हो जाएगा।

झारखंड में भाजपा की पिछले 20 साल की सहयोगी

आजसू ने भी उम्मीदवारों का एकतरफा ऐलान किया है।

उसने चार ऐसी सीटों पर उम्मीदवार उतार दिए हैं,

जहां से भाजपा ने भी अपने उम्मीदवार उतारे थे।

आजसू 17 सीटें लेने पर अड़ी है, जबकि

भाजपा उसे दस से ज्यादा सीट देकर राजी नहीं है।

पिछली बार आजसू आठ और लोजपा एक सीट पर चुनाव लड़ी थी।

पर इस बार आजसू को 17 और लोजपा को छह सीट चाहिए,

जिसके लिए भाजपा राजी नहीं हुई।

भाजपा की सहयोगी ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन,

आजसू ने 12 सीटों पर उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की है।

इनमें से चार सीटें ऐसी हैं, जिन पर भाजपा ने भी उम्मीदवार उतारे हैं।

ये चारों सीटें सिमरिया, मांडू, सिंदरी और चक्रधरपुर की हैं।

चक्रधरपुर से भाजपा ने प्रदेश के पार्टी

अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ के नाम की घोषणा की है।

आजसू ने उनके खिलाफ भी उम्मीदवार उतार दिया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
हिमाचल के मुख्यमंत्री ने स्वदेश दर्शन योजना के तहत शिमला में पहले हेलीपोर्ट का उद्घाटन किया
हिमाचल के मुख्यमंत्री ने स्वदेश दर्शन योजना के तहत शिमला में पहले हेलीपोर्ट का उद्घाटन किया