nayaindia सोनिया के लिए अभद्र टिप्पणी पर माफी मांगे खट्टर : कांग्रेस - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

सोनिया के लिए अभद्र टिप्पणी पर माफी मांगे खट्टर : कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने कहा है कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ की गयी टिप्पणी अभद्र, निंदनीय, शर्मनाक और देश की महिलाओं का अपमान है और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए।
कांग्रेस ने सोमवार को अपने आधिकारिक ट्वीट पर कहा “पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ अपने तुच्छ बयान, महिलाओं के अपमान और असामाजिक सोच के लिए मुख्यमंत्री खट्टर को देश की समस्त महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए।”

पार्टी ने कहा है कि श्री खट्टर के नेतृत्व में हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने पांच साल में महिला विरोधी कार्य किए हैं। महिलाओं के लिए कुछ बेहतर करने की भाजपा की मंशा ही नहीं रही है। भाजपा ने हरियाणा को ‘गौरवशाली प्रदेश’ से ‘अपराधयुक्त प्रदेश’ बना दिया है। महिलाओं के खिलाफ अपराध का बढ़ता ग्राफ भाजपा की सोच का प्रतीक है। महिला विरोधी सोच भाजपा की रग-रग में समाई हुई है।

इस बीच महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुष्मिता देव ने यहां जारी एक बयान में श्री खट्टर की टिप्पणी को निंदनीय तथा शर्मनाक बताया और कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष के लिए श्री खट्टर के अमर्यादित तथा असंसदीय शब्दों के इस्तेमाल से साबित होता है कि उनमे तथा भारतीय जनता पार्टी में महिलाओं के लिए कोई सम्मान नहीं है।

उन्होंने कहा कि पूरा देश जनता है कि पिछले पांच साल में हरियाणा बलात्कार की राजधानी बन गया है और ‘बेटी बचाओ गैंग’ के मनोहर लाल खट्टर नेतृत्व में यह प्रदेश अपराध के आंकड़ों में देश का चौथा सबसे बड़ा प्रदेश बन गया है। श्री खट्टर के पांच साल के शासन में हरियाणा को बहुत नुकसान हुआ है और जनता के साथ उन्होंने जो छलावा किया है उन सवालों का उनके पास कोई जवाब नहीं है।
खबरों मे कहा गया है कि श्री खट्टर ने एक बयान में कहा है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के पद से इस्तीफा देने के तीन माह बाद श्रीमती गांधी को पार्टी का अंतरिम अध्यक्ष बनाना ‘खोदा पहाड़ निकली चुहिया, वह भी मरी हुई’ कहा था।

Leave a comment

Your email address will not be published.

9 − 7 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
हम भी वही कर रहे है, जो मुगलिया शासकों ने किया था..!
हम भी वही कर रहे है, जो मुगलिया शासकों ने किया था..!