nayaindia किसानों ने मनाया शहीद दिवस - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

किसानों ने मनाया शहीद दिवस

नई दिल्ली। केंद्र सरकार के बनाए तीन कृषि कानूनों के विरोध में पिछले 118 दिन से प्रदर्शन कर रहे किसानों ने मंगलवार को धरने की जगहों पर शहीद दिवस का आयोजन किया। इस मौके पर युवा किसानों को आगे किया गया था और सभी किसानों ने पीले रंग की पगड़ी बांधी थी। इस तरह किसानों ने शहीद ए आजम सरदार भगत सिंह और उनके साथ फांसी पर चढ़े राजगुरू और सुखदेव की शहादत को सलाम किया। किसानों ने इस मौके पर आगे की रणनीति भी बनाई और 26 मार्च के भारत बंद को सफल बनाने की योजना पर विचार किया।

शहीद दिवस के मौके पर देश के कई हिस्सों से युवा दिल्ली की सीमा पर चल रहे धरने में हिस्सा लेने पहुंचे थे। तीन दिन पहले हरियाणा के हांसी की ऐतिहासिक लाल सड़क से किसानों की एक पदयात्रा को शहीद भगत सिंह की भांजी गुरजीत कौर ने झंडी दिखा कर रवाना किया था। किसानों का यह जत्था मंगलवार को दिल्ली पहुंचा और किसान आंदोलन में शामिल हुआ। पूरे रास्ते इस यात्रा में किसान शामिल होते गए।

भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरू की शहादत को याद करने और उन्हें श्रद्धांजलि देने के बाद किसान संगठनों ने भारत बंद को सफल बनाने की रणनीति पर विचार किया। गौरतलब है कि संयुक्त किसान मोर्चा ने किसान आंदोलन के चार महीने पूरे होने के मौके पर 26 मार्च को भारत बंद का ऐलान किया है। संयुक्त किसान मोर्चा ने इस बंद को सफल बनाने के लिए कई अन्य संगठनों के लोगों के मुलाकात की। कई कारोबारी और मजदूर संगठनों ने इस बंद का समर्थन किया है। 26 मार्च के भारत बंद के दो दिन बाद 28 मार्च को होलिका दहन के मौके पर किसान केंद्र सरकार के बनाए कानूनों की प्रतियां जलाएंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published.

nine − 2 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
आबे के अंतिम संस्कार में भावुक हुए मोदी
आबे के अंतिम संस्कार में भावुक हुए मोदी