छह जुलाई से खुलेंगे स्मारक

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बावजूद अनलॉक के दूसरे चरण में ऐतिहासिक स्मारकों को आम लोगों के लिए खोलने का फैसला कर लिया गया है। भारत सरकार ने तय किया है कि छह जुलाई से दिल्ली में लाल किले से लेकर कुतुब मीनार और आगरा के ताजमहल सहित लगभग सारे ऐतिहासिक स्मारकों को खोल दिया जाएगा। दूसरे राज्यों में भी ऐतिहासिक स्मारक आम लोगों के घूमने के लिए खोले जाएंगे।

इस बीच सरकार की ओर से यह भी कहा गया है कि देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने टेस्टिंग की क्षमता भी बढ़ा दी है। अब हर रोज दो से तीन लाख लोगों की जांच हो रही है। गुरुवार को बताए गए आंकड़ों के मुताबिक अब तक देश भर में 90 लाख 56 हजार से ज्यादा लोगों की जांच हो चुकी है। जांच नतीजों में राहत की बात यह बताई जा रही है कि 90 लाख से ज्यादा जांच में 6.70 फीसदी यानी छह लाख छह हजार से थोड़े से ज्यादा लोगों की रिपोर्ट ही पॉजिटिव आई। बाकी सबकी रिपोर्ट निगेटिव निकली। इंडियन कौंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च, आईसीएमआर के मुताबिक एक जुलाई को देश भर में दो लाख 29 हजार 588 लोगों की जांच हुई।

इस बीच, केंद्रीय पर्यटन और संस्कृति मंत्री प्रहलाद पटेल ने कहा कि छह जुलाई से देश भर की ऐतिहासिक स्मारकों, म्यूजियम आदि को दर्शकों के लिए खोल दिया जाएगा। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग यानी एएसआई के साथ बैठक में यह फैसला किया गया। तय हुआ है कि इसके लिए एक दिशा-निर्देश भी जारी किया जाएगा। ऐतिहासिक धरोहरों में ताज महल, मेहरानगढ़ का किला, कुतुब मीनार, आगरा का किला, चित्तौड़गढ़ का किला, लाल किला आदि शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares