समाचार मुख्य

नगरोटा की भारत ने दुनिया को बताई सच्चाई

नयी दिल्ली। विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने जम्मू के नगरोटा में आतंकवादी संगठन जेईएम के सुनियोजित हमले की घटना के बारे में अमेरिका, रूस और फ्रांस समेत कुछ विदेशी राजनयिकों के समूह को सोमवार को अवगत कराया। समय रहते सुरक्षा बलों ने 19 नवंबर को आतंकी हमले की साजिश को नाकाम कर दिया था।

सूत्रों ने बताया कि मिशनों के प्रमुखों को घटना के बारे में विस्तृत सूचना मुहैया करायी गयी और आतंकवादियों के पास से बरामद गोला-बारूद के बारे में उन्हें बताया गया। विदेशी राजनयिकों को इस बारे में भी बताया गया कि आतंकी जम्मू कश्मीर के सांबा सेक्टर में उजागर हुई सुरंग के जरिए घुसे।उन्होंने बताया कि पुलिस और खुफिया अधिकारियों की शुरुआती जांच में निकले निष्कर्ष से भी उन्हें वाकिफ कराया गया कि नगरोटा में हमले की साजिश रचने वाले आतंकवादी पाकिस्तान से संचालित जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) से जुड़े थे जबकि संयुक्त राष्ट्र ने इस पर प्रतिबंध लगा रखा है ।पता चला है कि अमेरिका, रूस, फ्रांस और जापान के दूतों को आतंकवादियों की साजिश के बारे में बताया गया। एक ट्रक में छिपकर जा रहे जेईएम के चार संदिग्ध आतंकियों को सुरक्षा बलों ने बृहस्पतिवार सुबह नगरोटा में मुठभेड़ में मार गिराया था। सरकार ने कहा था कि सुरक्षा बलों ने इन आतंकियों को ढेर कर आतंकवादी हमले को नाकाम कर दिया।

Latest News

आसाराम बाबा….अब तो जेल में जाना ही पड़ेगा
जोधपुर |  आसाराम बाबा कुछ महीनों पहले कोरोना संक्रमित हो गया था। जिसके बाद उसके स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है।…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान

आसाराम बाबा….अब तो जेल में जाना ही पड़ेगा

asaram bapu

जोधपुर |  आसाराम बाबा कुछ महीनों पहले कोरोना संक्रमित हो गया था। जिसके बाद उसके स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है। जिसके बाद से वह हॉस्पिटल में भर्ती है। लेकिन अब आसाराम ही सुधरने लगी है। खबर है कि आने वाले दो से तीन दिन में आसाराम को हॉस्पिटल से छुट्टी मिल जाएगी। और फिर से आसाराम की रातें जेल में कटेगी। जैसे ही आसाराम को डिस्चार्ज मिलेगा वैसे ही उसको जेल में बंद कर दिया जाएगा। आपतो बता दें कि आसाराम को नाबालिक छात्रा से यौन उत्पीडऩ के आरोप में मरते दम तक जेल की सजा सुनाई गई थी। आसाराम भी अब खुद को पहले से काफी अच्छा महसूस कर रहा है। जोधपुर एम्स में करीब एक सप्ताह से भर्ती आसाराम की सेहत में अच्छा सुधार देखने को मिल रहा है। पोस्ट कोविड दिक्कतों से उसे काफी हद तक निजात मिल चुकी है। साथ ही उसका यूरिन इंफेक्शन भी नियंत्रित हो गया है।

asaram

 आसाराम के भक्त लगातार मिलने पहुंच रहे है

आसाराम के ठीक होते ही उकी मुश्किलों फिर से बढ़ने वाली है। क्योंकि अस्पताल से छुट्टी मिलते ही उको जेल में शिफ्ट कर दिया जाएगा। कहा जा रहा हैं कि आसाराम की तबीयत में सुधार जल्दी हो रहा है। और ऐसे ही सुधार हुआ तो एक दो दिन में अस्पातल से डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। आसाराम फिलहाल एम्स में भर्ती है। और उससे मिलने उसके समर्थक पहुंच रहे है। बारी-बारी से चुनिंदा लोग भीतर जाकर उससे मिलकर आ रहे हैं। उससे मिलने वालों का दिन भर तांता लगा रहता है। गौरतलब है कि पिछले महीने आसाराम की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उसे पहले महात्मा गांधी व बाद में एम्स में भर्ती करवा कर इलाज कराया गया। आसराम ने अपनी बीमारी को लेकर हाईकोर्ट जमानत याचिका लगाकर आयुर्वेद पद्धति से इजाल करवाने की मांग की थी। हाईकोर्ट ने आसाराम की जमानत याचिका को खारिज कर दिया था। हाईकोर्ट के इस आदेश को आसाराम ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे रखी है। वहां भी एक दिन पहले सुनवाई कुछ दिनों के लिए टल गई।

2018 में सुनाई थी उम्रकैद की सजा

गौरतलब है कि अगस्त 2013 में जोधपुर के एक आश्रम में अपने गुरुकुल की एक नाबालिग छात्रा के यौन उत्पीडऩ का आरोप लगा था। इसके बाद आसाराम को गिरफ्तार किया था, इसके बाद से वह जोधपुर जेल में बंद है। April 2018 में उसे कोर्ट ने आसराम को मरते दम तक जेल में रहने की सजा सुनाई गई थी। उकी सजा ही वह भुगत रहा है। बीमारी के बहाने बनाकर वह बाहर आता रहता है।

Latest News

aaआसाराम बाबा….अब तो जेल में जाना ही पड़ेगा
जोधपुर |  आसाराम बाबा कुछ महीनों पहले कोरोना संक्रमित हो गया था। जिसके बाद उसके स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है।…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *