नेहरू-गांधी परिवार ने कभी नहीं किया पीएमओ का सम्मान: नड्डा

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कांग्रेस और गांधी परिवार की आलोचना करते हुए कहा है कि पंजाब में राहुल गांधी की ओर से निर्देशित प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला जलाने का नाटक शर्मनाक है।

नड्डा ने आज सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि ऐसा नाटक अप्रत्याशित नहीं है क्योंकि नेहरु गांधी राजवंश ने कभी भी प्रधानमंत्री कार्यालय का सम्मान नहीं किया है। वर्ष 2004 से 2014 तक संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री के अधिकार को संस्थागत तौर पर कमज़ोर करते हुए देखा गया।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि निराशा और बेशर्मी का मेल खतरनाक है। कांग्रेस के पास दोनों है। जहां पार्टी में राहुल गांधी घृणा क्रोध, झूठ और आक्रामकता की राजनीति दिखाते हैं वहीं उनकी मां सोनिया गांधी शालीनता और लोकतंत्र की सिर्फ बयानबाजी करके इसका पूरक बनती हैं। ये कांग्रेस पार्टी के दोयम दर्जे को दिखाता है।

नड्डा ने कहा कि अगर कोई पार्टी घृणा का पात्र है तो वह कांग्रेस है। राजस्थान में अनुसूचित जाति और जनजाति पर अत्याचार सबसे ज्यादा है। काग्रेस शासित राजस्थान और पंजाब में महिलाएं सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं। पंजाब के मंत्री छात्रवृत्ति घोटाला कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर कांग्रेस कभी भी दूसरों पर दबाव नहीं बना सकती। कांग्रेस का दूसरों की आवाज़ दबाने का दशकों से इतिहास रहा है। इसे हमने आपातकाल के दौरान भी देखा। इसके बाद राजीव गांधी की सरकार में प्रेस की आज़ादी को कमज़ोर करने की कोशिश की गई। स्वतंत्र मीडिया कांग्रेस को चुभती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares