nayaindia बिहार में नई पाबंदियों का ऐलान, संक्रमितों रिकार्ड तोड़ संख्या - Naya India
देश | बिहार | समाचार मुख्य| नया इंडिया|

बिहार में नई पाबंदियों का ऐलान, संक्रमितों रिकार्ड तोड़ संख्या

पटना। कोरोना वायरस के संक्रमितों की रिकार्ड तोड़ संख्या को देखते हुए बिहार सरकार ने नई पाबंदियों का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस करके ऐलान का है कि बिहार में रविवार से 15 मई तक नाइट कर्फ्यू लगेगी और इसके अलावा मॉल, सिनेमा घर, पार्क आदि बंद रहेंगे। नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में रविवार 8,690 मामले सामने आए, इसलिए पाबंदियों का फैसला करना पड़ा। इस बीच राजधानी के एक मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक ने ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं होने से नाराज होकर इस्तीफा देने की चिट्ठी स्वास्थ्य सचिव को लिखी है।

बहरहाल, मुख्यमंत्री ने कहा- फैसला किया गया है कि कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा, जहां लोगों के इलाज की पूरी व्यवस्था राज्य सरकार करेगी। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि आरटी-पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट समय पर दी जाएगी। गौरतलब है कि अभी टेस्ट रिपोर्ट पेंडिंग होने की अनेक शिकायत हैं। उन्होंने बताया कि 15 मई तक सारे स्कूल-कॉलेज और धार्मिक स्थल बंद रहेंगे।

इस बीच राजधानी पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अधीक्षक ने शनिवार को खुद को पद मुक्त करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव का पत्र लिखा है। उनका कहना है कि ऑक्सीजन की कमी के कारण किसी मरीज की मौत होती है तो इसका आरोप उनके ऊपर आएगा लिहाजा वे पद पर नहीं रहना चाहते हैं। उनके पत्र की एक कॉपी बिहार में विपक्ष के नेता और राजद प्रमुख तेजस्वी यादव ने साझा की है। उन्होंने पत्र के साथ नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए राज्य में कोविड-19 के खिलाफ इंफ्रास्ट्रक्चर की कमी पर चिंता जताई है।

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को लिखे अपने पत्र में डॉक्टर विनोद कुमार सिंह ने बताया कि कई बार आग्रह करने के बावजूद उन्हें ऑक्सीजन के सिलिंडर नहीं दिए जा रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि ऑक्सीजन की कमी के कारण कई मरीजों की मौत हो सकती है,  जिसका आरोप अस्पताल प्रशासन पर आएगा। विनोद सिंह ने अपने पत्र में लिखा कि जब वे अस्पताल में मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं दिलाने के लिए अपनी पूरी ताकत से मेहनत कर रहे हैं तो ऐसे समय में वे किसी की मौत की जिम्मेदारी अपने ऊपर नहीं लेना चाहते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 + nineteen =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
यात्रा में सहयोगियों का साथ
यात्रा में सहयोगियों का साथ