सीएए से देश में नहीं छिनेगी किसी की नागरिकता : मोदी

साहेबगंज। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस और वामदलों पर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर मुसलमानों को डराने का आरोप लगाते हुए आज दावा किया कि इस कानून से देश के हिंदू, मुसलमान, सिख, इसाई और पारसी किसी भी संप्रदाय के लोगों की नागरिकता पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता मोदी ने यहां बरहेट विधानसभा क्षेत्र के भोगनाडीह में झारखंड विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए अपनी अंतिम चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, “कांग्रेस और वामदलों ने सीएए को लेकर मुसलमानों को डराने में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।

लेकिन, मैं झारखंड में वीरों की इस धरती से देश और प्रत्येक नागरिक को फिर से आश्वस्त करना चाहता हूं कि इस कानून के प्रभावी होने से देश के किसी भी संप्रदाय के नागरिक चाहे वह हिंदू, मुसलमान, सिख, इसाई या पारसी हों की नागरिकता पर कोई असर नहीं पड़ेगा।” मोदी ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बंगलादेश में धार्मिक अत्याचार के शिकार हुए हिंदू, सिख, इसाई, पारसी, बौद्ध और जैन संप्रदाय के लोगों के भारत आने के लिए बनाया है।

यह कानून उनके लिए बनाया गया है जो इन देशों में वर्षों से दयनीय स्थिति में हैं और उनके पास कोई रास्ता नहीं बचा है। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा, “मैं पूछना चाहता हूं कि इससे मुसलमान या देश के किसी भी नागरिक के अधिकार का हनन कहां होता है। यह कानून किसी भारतीय का अधिकार नहीं छीनता लेकिन फिर भी कांग्रेस एवं उसके सहयोगी मुसलमानों को डराकर राजनीतिक खिचड़ी पकाना चाहते हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares