• डाउनलोड ऐप
Monday, April 19, 2021
No menu items!
spot_img

188 जिलों में कोरोना के मामले नहीं

Must Read

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने दावा किया है कि देश में कोरोना वायरस की रफ्तार थम गई है और संक्रमण में तेजी से कमी आ रही है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सोमवार को बताया कि पिछले सात दिनों में देश के 188 जिलों में कोरोना का एक भी नया मामला सामने नहीं आया है। हालांकि देश के सबसे अधिक संक्रमित राज्य महाराष्ट्र में वायरस एक बार फिर फैलने लगा है। चार दिन में संक्रमण की रफ्तार तेज हो गई है और रविवार को चार हजार नए मामले आए। हालांकि सोमवार को मामलों में कमी आई।

बहरहाल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी बताया कि सरकार मार्च में 50 साल से ज्‍यादा उम्र के लोगों को कोविड-19 वैक्‍सीन लगाने की स्थिति में होगी। उन्‍होंने यह भी कहा कि यह बेहद महत्वपूर्ण है कि लोग कोविड गाइडलाइन का पालन करते रहें। हर्षवर्धन ने कहा- इसे मैंने सोशल वैक्‍सीन नाम दिया है, जो कोरोना के खिलाफ असल टीका है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- आज देश में दो वैक्सीन उपलब्ध हो गई है। 80-85 लाख स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन दी जा चुकी है। मौजूदा वक्‍त में भारत 20-25 देशों को वैक्सीन देने की स्थिति में आ गया है। मार्च के महीने में हम 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन देंगे।

हर्षवर्धन ने यह भी बताया कि फिलहाल में देश में 18-20 वैक्सीन पर अलग-अलग स्तरों पर काम चल रहा है। इनमें से कुछ वैक्सीन अगले कुछ महीनों में आ सकती हैं। उन्होंने कहा- कम से कम 18-20 टीके प्री-क्लीनिकल, क्लीनिकल और एडवांस स्टेज में हैं। आने वाले महीनों में इनके आने की संभावना है। मेरा मानना है यदि ‘हेल्थ फॉर ऑल’ का सपना दुनिया में कभी पूरा होगा तो इसका मॉडल भारत में विकसित होगा।

गौरतलब है कि देश में अब तक एक करोड़ नौ लाख से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं, जिनमें से एक करोड़ छह लाख 25 हजार से ज्यादा लोग इलाज से ठीक हो गए हैं। एक लाख 56 हजार के करीब लोगों की इस बीमारी से मृत्यु हुई है और एक लाख 34 हजार लोगों का अभी इलाज चल रहा है। डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि अभी में देश में कोरोना संक्रमण के खिलाफ 97.29 फीसद की रिकवरी रेट है। दुनिया की सबसे कम मृत्यु दर 1.43 भारत में ही है। उन्होंने कहा- कोरोना आपदा को हमने अवसर में बदला है। इसमें दौरान देश की स्वास्थ्य क्षमता काफी मजबूत हुई है। देश में वायरस की जांच के लिए एक लैब थी, जिसे ढाई हजार लैब तक ले जाया गया है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

कोरोना का तांडव! देशभर में पौने तीन लाख नए केस आए सामने, कोरोना से हुई मौतों ने तोड़ा रिकाॅर्ड

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना का संकट (Coronavirus in India) लगातार गहराता जा रहा है। नाइट कर्फ्यू, लॉकडाउन और...

More Articles Like This