पाकिस्तान फरवरी तक संदिग्धों की सूची में

इस्लामाबाद। फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स, एफएटीएफ ने पाकिस्तान की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। खबरों के मुताबिक एफएटीएफ ने आतंकी फंडिंग और धनशोधन रोकने में नाकाम रहने को लेकर फरवरी 2020 तक पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में ही रखने का फैसला किया है। इसका मतलब है कि अगले साल फरवरी तक पाकिस्तान संदिग्ध देशों की सूची में बना रहेगा।

गौरतलब है कि एफएटीएफ एक अंतर सरकारी निकाय है जो 1989 में धनशोधन, आतंकी फंडिंग को रोकने सहित दूसरी संबंधित खतरों का मुकाबला करने के लिए बनाया गया था। खबरों के मुताबिक मंगलवार को पेरिस में हुई बैठक में एफएटीएफ ने उन उपायों की समीक्षा की जो पाकिस्तान ने धनशोधन और आतंक के वित्त पोषण को नियंत्रित करने के लिए उठाए हैं। पेरिस स्थित टास्क फोर्स ने पाकिस्तान से आतंकी फंडिंग को पूरी तरह से रोकने के लिए अतिरिक्त उपाय करने का निर्देश दिया है। ध्यान रहे एफएटीएफ अब फरवरी 2020 में पाकिस्तान की स्थिति पर अंतिम फैसला करेगा। खबरों के मुताबिक एफएटीएफ ने टास्क फोर्स की सिफारिशों को लागू करने के लिए पाकिस्तान को चार महीने की राहत देने का फैसला किया है। इस बात की औपचारिक घोषणा शुक्रवार को एफएटीएफ के सत्र के आखिरी दिन की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares