दिल्ली में हवा की गुणवत्ता ‘बहुत खराब’

नई दिल्ली। दिल्ली में अभी सर्दियां शुरू नहीं हुईं पर हवा की गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ स्तर पर पहुंच गई। दिल्ली में हवा की गुणवत्ता खराब होने और वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ने को राज्य सरकार ने गंभीरता से लिया है। सरकार की ओर से लोगों को जागरूक करने की मुहिम शुरू हुई है। पहले चरण में लाल बत्ती पर गाड़ी का इंजन बंद करने के लिए लोगों को प्रेरित करने का अभियान शुरू किया गया है। दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय ने खुद इस अभियान की शुरुआत की। उन्होंने यह भी संकेत दिया कि जरूरत हुई तो ऑड-इवन का नियम भी लागू किया जा सकता है।

बहरहाल, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, सीपीसीबी के मुताबिक बुधवार को सुबह दस बजे दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक, एक्यूआई 268 था जबकि मंगलवार को यह 223 दर्ज किया गया था। गौरतलब है कि 201 से 300 के बीच ‘खराब’ और 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच एएक्यूआई को ‘गंभीर’ माना जाता है।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की संस्था ‘सफर’ ने कहा बुधवार को कहा- यह पूर्वानुमान है कि कल वायु की गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में रहेगी और 23 अक्टूबर को बहुत खराब से खराब के बीच रहेगी। ‘सफर’ के अनुसार हरियाणा, पंजाब और आसपास के क्षेत्रों में मंगलवार को पराली जलाने की 849 घटनाएं हुई। ‘सफर’ के मुताबिक पराली जलाने का पीएम 2.5 के उत्सर्जन में बुधवार को 15 फीसदी योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares