राहुल ने पूछा, काफिला क्यों लुटा

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बिना किसी का नाम लिए या बिना किसी घटना का संदर्भ दिए केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने एक शेर ट्विट करके पूछा कि काफिला क्यों लुटा। यह शेर मनमोहन सिंह की सरकार के समय लोकसभा में नेता विपक्ष सुषमा स्वराज ने भी पढ़ा था। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्र के नाम संदेश के बाद राहुल ने यह ट्विट किया।

उन्होंने किसी का नाम तो नहीं लिया, लेकिन माना जा रहा है कि यह उनकी ओर से सरकार पर किया गया तंज है। उन्होंने लिखा- तू इधर उधर की बात न कर, ये बता कि काफिला कैसे लुटा, मुझे राहजनों से गिला तो है, पर तेरी रहबरी का सवाल है। राहुल ने इससे पहले मंगलवार को ही कोरोना और अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी को सुझाव भी दिए थे। राहुल ने कहा कि कोरोना ने अर्थव्यवस्था को जबरदस्त चोट पहुंचाई है। इससे सबसे ज्यादा नुकसान गरीबों, मजदूरों और मध्यम वर्ग को पहुंचा।

राहुल गांधी ने आगे कहा- इनके लिए सरकार न्याय योजना जैसी एक स्कीम लेकर आए। यह ज्यादा लंबी न हो, छह महीने के लिए हो। इसके तहत हर गरीब परिवार के खाते में साढ़े सात हजार रुपए हर महीने डाले जाएं। राहुल ने कहा- इससे डिमांड बढ़ेगी और अर्थव्यवस्था फिर रास्ते पर आ जाएगी। हालांकि, सरकार इससे तीन-चार बार इनकार कर चुकी है। उसका कहना है कि पैसा नहीं है, लेकिन मैं याद दिला दूं कि सरकार ने 15 बड़े उद्योगपतियों का लाखों करोड़ों का टैक्स माफ कर दिया।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने चीन से आयात के मुद्दे पर भी सरकार को घेरा है। उन्होंने मंगलवार को कहा कि भाजपा मेक इंडिया की बात करती है, लेकिन सामान चीन से खरीदती है। राहुल ने ट्विटर पर दो ग्राफ शेयर किए, जिनमें मनमोहन और मोदी सरकार के समय चीन से आयात का प्रतिशत बताया है। उन्होंने कहा है कि आंकड़े झूठे नहीं होते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares