nayaindia खरीद-बिक्री के नए रेट आए: गहलोत - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

खरीद-बिक्री के नए रेट आए: गहलोत

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री ने भाजपा और कांग्रेस से बागी हुए सचिन पायलट खेमे पर तंज करते हुए कहा है कि अब खरीद-बिक्री के नए रेट आ गए हैं। उन्होंने गुरुवार को कहा कि जब से यह तय हुआ है कि विधानसभा का सत्र 14 अगस्त से होगा, तब से राज्यों में खरीद-फरोख्त की दर बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि इससे पहले पहली किश्त दस करोड़ की और दूसरी किश्त 15 करोड़ रुपए की थी पर अब कीमत असीमित हो गई है। उन्होंने तंज करते हुए सवालिया लहजे में यह भी कहा कि किस किस ने पहली किश्त ले ली है।

बहरहाल, सत्र बुलाए जाने की तारीख तय होने के एक दिन बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने विधायकों को होटल में ही ठहरने के निर्देश दिए हैं। सत्र शुरू होने तक सिर्फ मंत्री ही होटल के बाहर कामकाज निपटाने के लिए सचिवालय जा सकेंगे। गुरुवार को गहलोत ने विधायकों से मुलाकात की। उसके बाद उन्होंने पत्रकारों से कहा- राजस्थान में हॉर्स ट्रेडिंग के पुराने रेट तो छोड़िए, नए रेट आ गए हैं। और, पता नहीं किस-किस ने पहली किश्त भी ले ली है।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा- हम फ्लोर टेस्ट को तैयार हैं। सत्र शुरू होने पर वो विधायक भी आएं, जो नाराज हैं। गहलोत ने कहा कि ऐसा इसलिए क्योंकि वे कांग्रेस के चुनाव चिह्न पर चुनाव जीते हैं। ऐसे में जनता के सामने वो सरकार के साथ खड़े दिखाई दें, यह निश्चित करना मेरी जिम्मेदारी है। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसको जनता माफी नहीं करेगी। उन्होंने कहा- राजस्थान भाजपा के लोग छिप-छिप कर दिल्ली जाते हैं। रात को जाते हैं। सुबह आकर कहते हैं, हम यहीं हैं। हम भी एक्सपोज करेंगे। छोड़ने वाले नहीं हैं।फ्लोर टेस्ट होगा। असेंबली में जाएगा। पीएम को मैंने पूरी जानकारी दी है।

गहलोत ने बसपा प्रमुख मायावती पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा- मायावती जो बयानबाजी कर रही हैं, वह भाजपा के इशारे पर कर रही हैं। भाजपा सीबीआई, ईडी के नाम पर डरा रही है। मायावती भी उनसे डर रही हैं। मजबूरी में वे ऐसा बयान दे रही हैं। उन्होंने कहा- बीजेपी फासिस्ट पार्टी है। वह लोकतांत्रिक पार्टी नहीं है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

16 + 8 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मप्र: स्थानीय निकाय चुनाव में स्थापित नेताओं की तूती