भाजपा कर रही लोकतंत्र की हत्या: कांग्रेस

जयपुर । राजस्थान में चल रही सियासी उठापटक के बीच कांग्रेस पार्टी ने भाजपा पर तीखा हमला किया है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि भाजपा लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास कर रही है। कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व की ओर से पर्यवेक्षक बना कर भेजे गए वरिष्ठ नेता अजय माकन ने रविवार को एक प्रेस कांफ्रेंस की, जिसमें उन्होंने कहा कि राजस्थान में लोकतंत्र की हत्या हो रही है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो लोग वोट डालने नहीं जाएंगे।

कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा- लोकतंत्र बचाने की जरूरत है। जब एसओजी की टीम हरियाणा पहुंची तो उसे रोक दिया गया। विधायकों को भागने का मौका दिया गया। अगर भाजपा का रोल नहीं है तो ये विधायक भाजपा शासित राज्यों में क्यों जा रहे हैं। गौरतलब है कि राजस्थान सरकार के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने विधायकों की खरीद फरोख्त से जुड़े वायरल ऑडियो टेप की जांच कर रही है। इसी सिलसिले में एसओजी की टीम मानेसर पहुंची थी पर हरियाणा पुलिस ने उन्हें होटल में घुसने से रोका और इस दौरान विधायक वहां से निकल गए।

बहरहाल, राजस्थान कांग्रेस के एक विधायक राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने बहुमत होने का दवा करते हुए कहा- हमारे पास एक सौ विधायक हैं। अगर हमारे पास बहुमत न हो तो भाजपा को फ्लोर टेस्ट की मांग करनी चाहिए। गुढ़ा ने भाजपा पर खरीद फरोख्त का आरोप लगाते हुए कहा- संजय जैन छह महीने पहले मेरे पास आया था। उसने वसुंधरा राजे और दूसरे नेताओं से मिलने के लिए कहा था। उसके जैसे दूसरे एजेंट भी हैं, लेकिन वे कामयाब नहीं हुए। इस संजय जैन को एसओजी ने गिरफ्तार किया हुआ है।

उधर कांग्रेस के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने भाजपा पर हमला करते हुए ट्विट करके कहा- पुलिस की जांच चल रही है। एफआईआर भी दर्ज की जा चुकी है। फिर भी भाजपा ऑडियो टेप की जांच में रुकावट डालने के लिए सीबीआई की मांग कर रही है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने भी भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली में वुहान जैसी सुविधा  के जरिए भ्रष्टाचार का वायरस चुनी हुई सरकार को अस्थिर करने के लिए फैला है। इसके लिए वैक्सीन की जरूरत है।

भाजपा नहीं लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

राजस्थान में मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा राज्य सरकार को लेकर यह दावा कर रही है कि वह अल्पमत में आ गई है पर इसके बावजूद वह अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाएगी। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि अशोक गहलोत की सरकार जुगाड़ की सरकार है। उन्होंने बहुमत खो दिया है। अगर बागी विधायक इस्तीफा दे देते हैं तो यह सरकार गिर जाएगी। उन्होंने कहा- फिर भी भाजपा अविश्वास प्रस्ताव पेश नहीं करेगी। फिलहाल हमारी पार्टी पूरे घटनाक्रम पर नजर रखे है। सोच समझकर कदम उठाएगी।

सचिन पायलट को लेकर सतीश पूनिया ने कहा- हम उन्हें न्योता नहीं देंगे। हां अगर वे पार्टी में शामिल होना चाहें तो स्वागत है। इस बीच विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने भी कहा कि भाजपा ने कभी फ्लोर टेस्ट की मांग नहीं की है। उन्होंने कहा- अभी भी फ्लोर टेस्ट की मांग भाजपा नहीं कर रही है। हम उनकी लड़ाई को देख रहे हैं। जब सही वक्त आएगा। हम जरूर कदम उठाएंगे। फिलहाल हमें जबरन इस मामले में घसीटा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares