भारत में तीन मामलों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

भारत में तीन मामलों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

नई दिल्ली । सरकार ने शुक्रवार को राज्यसभा में बताया कि चीन में कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित वुहान क्षेत्र में अभी तक 80 भारतीय छात्र मौजूद हैं, जबकि देश में अब तक तीन मरीजों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुयी है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्द्धन और विदेश मंत्री एस जयशंकर ने शुक्रवार को राज्यसभा में यह जानकारी दी।

जयशंकर ने उच्च सदन में बताया कि वुहान शहर से भारतीयों को लेने अलग अलग दिन गये एयर इंडिया के दो विशेष विमान से पाकिस्तान सहित सभी पड़ोसी देशों के छात्रों को भी साथ आने की पेशकश की गई थी, जिसका मालदीव के सात छात्रों ने लाभ उठाया। डॉ हर्षवर्द्धन ने देश में कोरोना वायरस के प्रभाव की मौजूदा स्थिति के बारे में स्वत: आधार पर एक वक्तव्य दिया। उनके बयान पर सदस्यों ने स्पष्टीकरण मांगा कि क्या चीन से भारतीयों की स्वदेश वापसी के समय पड़ोसी देशों के नागरिकों को भी लाने की पहल की गयी थी?

इसके जवाब में विदेश मंत्री ने बताया कि भारत सरकार ने चीन के वुहान क्षेत्र में भारतीय छात्रों को स्वदेश लाने के लिए दो विशेष विमान भेजे थे। उन्होंने बताया कि 80 भारतीय छात्र अभी वुहान में ही हैं। इनमें से 70 छात्र स्वेच्छा से वहां रुके हैं। उन्होंने कहा कि दस भारतीय छात्र चीन में हवाईअड्डे तक आ गए थे। किंतु उन्हें बुखार होने के कारण चीन के अधिकारियों ने देश छोड़ने की अनुमति नहीं दी।

जयशंकर ने सदन को आश्वस्त किया कि सरकार चीन में भारतीय नागरिकों की मदद के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। उन्होंने बताया कि बीजिंग से भारतीय दूतावास के दो अधिकारी भी वुहान गए थे ताकि छात्रों को वापस स्वदेश भेजा जा सके।  विदेश मंत्री की इस घोषणा का सदस्यों ने मेजें थपथपा कर स्वागत किया। जयशंकर ने बताया कि भारतीय विमान में पड़ोसी देशों के छात्रों से भी भारत आने की पेशकश की गयी थी। उन्होंने बताया कि इस पेशकश का मालदीव के सात छात्रों ने लाभ उठाया। भाजपा की सदस्य रूपा गांगुली ने पूछा था कि क्या भारत सरकार, चीन के वुहान में फंसे पाकिस्तानी नागरिकों को लाने के लिए भी कोई प्रयास करेगी, क्योंकि देश पहले भी विश्व में इस तरीके से अन्य देशों के नागरिकों की मदद के लिए पहल कर चुका है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Kerala : लॉटरी से थी नफरत, 500 के छुट्टे के लिए मजबूरी में खरीदी थी लॉटरी और 5 घंटे में बने करोड़पति…
Kerala : लॉटरी से थी नफरत, 500 के छुट्टे के लिए मजबूरी में खरीदी थी लॉटरी और 5 घंटे में बने करोड़पति…