हिजबुल का आतंकी जुनैद मारा गया - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

हिजबुल का आतंकी जुनैद मारा गया

Shopian Encounter

श्रीनगर। सुरक्षा बलों ने एक बड़े अभियान में हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी जुनैद सहराई को मार गिराया है। उसके साथ हिजबुल का एक और आतंकी मारा गया है। लंबे समय के बाद श्रीनगर के इलाके में मुठभेड़ हुई। सोमवार को रात दो बजे सुरक्षा बलों का अभियान शुरू हुआ था। घनी आबादी वाले नवाकदल में हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकी छिपे थे, जिनमें से एक अलगाववादी संगठन तहरीक ए हुर्रियत के प्रमुख मोहम्मद अशरफ सहराई का बेटा जुनैद भी था। यह पहला मौका है, जब किसी बड़े अलगाववादी नेता का बेटा सुरक्षा बलों के हाथों मारा गया है। आमतौर पर अलगाववादियों के बच्चे विदेश में पढ़ाई करते हैं।

बहरहाल, जानकारी के मुताबिक, 29 साल का जुनैद अपने साथी तारिक अहमद शेख के साथ सोमवार की रात वहां फंस गया था। पुलिस को उसकी मौजूदगी के बारे में पुख्ता जानकारी मिली थी। तभी रात दो बजे पुलिस ने घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन चलाया था। एक घंटे बाद छिपे हुए आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर ग्रेनेड फेंका, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। ग्रेनेड विस्फोट में दो पुलिसवाले और एक सीआरपीएफ जवान घायल हुए हैं। सुरक्षा बलों ने बाद में उस घर में विस्फोट कर दिया, जहां जुनैद छिपा था। इसमें जुनैद और उसका साथी आतंकवादी दोनों मारे गए।

दो साल पहले मार्च 2018 में आतंकी जुनैद के पिता मोहम्मद अशरफ ने हुर्रियत प्रमुख सैयद अली शाह गिलानी की जगह ली थी। इसी के बाद जुनैद हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल हुआ था। 2018 में ही वह जुमे की नमाज के बाद श्रीनगर में अपने घर बागात इलाके से गायब हो गया था। इसके बाद उसकी बंदूक पकड़े तस्वीरें सोशल मीडिया पर नजर आई थीं। उसके परिवार ने मार्च 2018 में उसके गायब होने की शिकायत पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई थी। हालांकि उसे लौटने के लिए परिवार ने कोई अपील नहीं की।

Latest News

Rajasthan में फिर टल सकता हैं मंत्रिमंडल में फेरबदल, अगस्त तक करना होगा इंतजार!
जयपुर | Rajasthan Cabinet Reshuffle: पंजाब की राजनीति में चल रही उठापटक को सुलझाने के बाद अब कांग्रेस आलाकमानों का पूरा फोकस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});